रोहतास डीएम ने की सामाजिक सुरक्षा कोषांग के सहायक निदेशक के निलंबन की अनुशंसा

सासाराम में एनएच-2 पर ओवरलोडेड बालू लदे वाहनों से अवैध वसूली के वायरल वीडियो के मामले में डीएम ने सामाजिक सुरक्षा कोषांग के सहायक निदेशक अगम श्रीवास्तव के निलंबन की कार्रवाई की अनुशंसा कर सामाज कल्याण विभाग के सचिव को पत्र भेजा है. डीएम ने त्रिस्तरीय जांच दल के रिपोर्ट के आधार पर दोषी पाए गए सहायक निदेशक के विरूद्ध कार्रवाई की है.

पत्र में कहा गया है कि उक्त वायरल वीडियो में लगाये गए आरोपों की पुष्टि हुई है. समर्पित स्पष्टीकरण के अवलोकन से भी स्पष्ट होता है कि उक्त घटना में पूर्णत: सत्य है एवं स्पष्टीकरण में कहा गया है कि अगम श्रीवास्तव द्वारा अपने कार्यालय उपयोग में लाये जा रहे वाहन के वाहन चालक एवं उनके अन्य साथी द्वारा अवैध रूप से बालू लदे वाहनों से नाजायज राशि की वसूली की गई है. हालांकि उनके द्वारा सम्बंधित वाहन के चालक एवं अन्य साथी के विरुद्ध स्थानीय थाना शिवसागर में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है, परन्तु उक्त मामले की तत्क्षण सूचना अपने वरीय पदाधिकारी को नहीं दिया जाना अपने पदीय दायित्वों एवं दंडाधिकारी के रूप में दिए गए निर्देशों के प्रति उदासीन एवं असंवेदनशील रवैये को दर्शाता है.

वीडियो फुटेज के माध्यम से यह स्पष्ट होता है कि अपने कार्यालय उपयोग में लाये जा रहे वाहन पर जिला प्रशासन का लेखन किया गया है, जिसके लिए वे सक्षम नहीं हैं और ना ही उनके द्वारा सक्षम प्राधिकार से इसकी अनुमति प्राप्त की गई है. उक्त घटना के कारण प्रशासन की छवि धूमिल करने का प्रयास हुआ है, जिसके लिए अगम श्रीवास्तव दोषी है. बता दें कि दो मार्च को सामाजिक सुरक्षा कोषांग के सहायक निदेशक अगम श्रीवास्तव को बालू लदे वाहनों एवं ओवरलोडेड वाहनों की रोकथाम के लिए दंडाधिकारी के रूप में शिवसागर टोल प्लाजा पर प्रतिनियुक्त किया गया था.

बताया जाता है कि कुछ दिन पूर्व उक्त अधिकारी वाहन चेकिंग कर रहे थे, वहीं कुछ दूरी पर चालक बालू लदे ट्रैक्टर चालकों से अवैध वसूली कर रहा था. इसी क्रम में ट्रैक्टर चालक ने उक्त अधिकारी के ड्राइवर एवं उसके साथी का वसूली करते वीडियो बना लिया और अधिकारी को दिखाया. जिसके बाद अधिकारी की शिकायत पर चालकों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

Leave a Reply