रोहतास: बालू लदे ट्रैक्टर चालकों से अवैध वसूली के मामले में सरकारी वाहन चालक समेत दो गिरफ्तार

रोहतास जिले के शिवसागर थाना की पुलिस ने टोल प्लाजा के पास से बालू लदे ट्रैक्टरों से फाइन का भय दिखाकर अवैध वसूली के मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार आरोपित टोल प्लाजा पर प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी सह जिला सामाजिक सुरक्षा कोषांग के सहायक निदेशक अगम श्रीवास्तव का सरकारी वाहन चालक उमेश चौधरी व उसका सहयोगी सोनू कुमार उर्फ प्रिंस है.

बताया जाता है कि प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी वाहन चेकिंग कर रहे थे, वही कुछ दूरी पर चालक बालू लदे ट्रैक्टर चालकों से अवैध वसूली कर रहा था. इसी क्रम में ट्रैक्टर चालक ने दंडाधिकारी के ड्राइवर का वसूली करते वीडियो बना लिया और दंडाधिकारी को दिखाया. जिसके बाद दंडाधिकारी की शिकायत पर चालकों को गिरफ्तार कर लिया गया है. अब सोशल मीडिया पर पैसे लेने का वीडियो वायरल हो रहा है, जिसे लेकर लोग तरह-तरह की बातें कर रहे हैं.

मामला जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार के संज्ञान में आते ही इसे काफी गंभीरता से लिया गया तथा एक टीम गठित कर इसकी जांच की गई है. जिलाधिकारी ने जांच रिपोर्ट आने तक सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा कोषांग अगम श्रीवास्तव के वेतन पर रोक लगा दी है. वहीं, मामले को ले शिवसागर थानाध्यक्ष ने बताया कि मामले में जिला सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा कोषांग अगम श्रीवास्तव द्वारा प्राथमिकी दर्ज कराई गई है. मामला शुक्रवार शाम का है.

दर्ज प्राथमिकी में अधिकारी द्वारा उनके चालक नोखा निवासी उमेश कुमार चौधरी तथा उसके एक अन्य सहयोगी औरंगाबाद निवासी सोनू कुमार द्वारा बालू लदे ट्रैक्टर से वसूली की बात कही गई है. जिसके बाद पुलिस ने चालक एवं उसके सहयोगी को गिरफ्तार कर लिया है. बताया कि आरोपितों ने ट्रैक्टर चालकों से फाइन नहीं करने के एवज में अपने साहब का भय दिखाकर पैसा लेने की बात स्वीकार किया गया है. इनके पास से वसूले गए 25 हजार रुपए भी बरामद किए गए हैं. वीडियो बनाने वाले ट्रैक्टर चालक धनजंय चौबे को भी गिरफ्तार किया गया है. उस पर एक ही चालान पर दो बार बालू ले जाने का आरोप हैं. घनंजय चौबे कैमूर के रामगढ़ का निवासी बताया जाता है.

Leave a Reply