रोहतास: प्रेमिका से मिलने पहुंचे प्रेमी की ग्रामीणों ने कराई शादी, दहेज के कारण परिजनों ने शादी से किया था इंकार

रोहतास जिले में एक लड़के ने खास अंदाज में शादी कर पूरे समाज को एक बड़ा संदेश दिया है कि अगर लड़का चाहे तो लड़की की शादी में दहेज बड़ी समस्या नहीं बन सकती है. दरअसल कोचस के बलथरी गांव के रहने वाले राकेश गुप्ता का सासाराम की रहने वाली सोनी कुमारी से दो वर्ष पूर्व शादी तय हो हुई थी. दहेज न मिलने के कारण शादी नहीं हो सकी. इस बीच मोबाइल से जीवन भर साथ निभाने का कसमे वादे की बातें होती रही. इस बीच लड़की के पिता का भी निधन हो गया. ऐसे में लड़की अपने मां के साथ मजदूरी कर परिवार चलाने लगी.

जब सोनी कुमारी करगहर के लखनपुरा में अपने मां के साथ एक शादी समारोह में खाना बनाने आई. इस बात को वो धनंजय को बताई तो उसकी बांछें खिल गई और वह बिना देर किए लखनपुरा पहुंच गया. जहां काफी देर तक दोनों में बातें होती रही. उनकी गतिविधियों को देखकर गृहस्वामी ने आपत्ति जताते हुए धनंजय के पिता को बुलाया. जिसके बाद लड़का के परिवार के लोग मौके पर पहुंच गए और लड़की एवं उसकी विधवा मां के साथ बदसलूकी करने लगे. प्रेमी युगल एक दूसरे से अलग नहीं होना चाहते थे.

उपस्थित ग्रामीणों ने मामला समझ लिया, तो गांव के ही एक मंदिर में दोनों की सहमति से विवाह करा दिया. शादी का पूरा खर्च गांव के लोगों ने ही उठाया. इसके लिए ग्रामीणों ने दस हजार रुपए चंदा इकट्ठा कर आभूषण व शादी के कपड़े की खरीदारी कर प्रेमी-युगल को दिए. इस बीच लड़का के पिता अपने रिश्तेदारों के साथ पहुंच कर शादी मंडप से लड़का को जबरन ले जाने लगा. जिसे देख ग्रामीणों ने उसे मना किया. एक तरफ बेटा का हाथ बाप खींच रहा था वहीं दूसरी ओर शादी संपन्न करने के लिए दूसरा हाथ ग्रामीण खींच रहे थे. अंततः ग्रामीणों के आगे उनकी एक नही चली व प्रेमी युगल परिणय सूत्र में बंध गए. ग्रामीणों ने उन्हें आशीर्वाद दिय. साथ ही सहमति से हुई शादी का वीडियो बनाकर उसे वायरल कर दिया. इस पूरे प्रकरण की इलाके में जमकर चर्चा है.

Leave a Reply