रोहतास में 246 नलकूपों में 142 खराब, बैठक में डीडीसी ने अभियंता को दिया अल्टीमेटम

रोहतास के समाहरणालय में मंगलवार को डीडीसी शेखर आनंद की अध्यक्षता में लघु सिंचाई प्रमंडल द्वारा संचालित नलकूपों के संचालन एवं मरम्मति पर व्यय किये गए राशि की उपयोगिता प्रमाण पत्र एवं अन्य विषयों के संबंध में समीक्षात्मक बैठक की गई.

बैठक में कार्यपालक अभियंता द्वारा बताया गया कि रोहतास जिलान्तर्गत कुल 246 नलकूप अधिष्ठापित है. जिसमें 102 कार्यरत हैं तथा 142 खराब होने के कारण अकार्यरत है. अकार्यरत नलकूपों में 63 में यांत्रिक दोष, छह में विद्युत दोष तथा 46 पंचायतों में नये सिरे से ड्रिलिंग का कार्य कराया जा रहा है.

इस संबंध मे डीडीसी ने कार्यपालक अभियंता को अल्टीमेटम देते हुए कहा कि सिंचाई व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने हेतु अकार्यरत नलकूपों का संचालन अविलंब कराना सुनिश्चित करें. ताकि किसानों को सिंचाई की व्यवस्था उपलब्ध करायी जा सकें. बैठक में कार्यपालक अभियंता लघु सिंचाई प्रमंडल रोहतास के साथ विभिन्न पंचायतों के मुखिया उपस्थित थे.

ज्ञात हो कि रोहतास में चल रहे मानसून में औसत वर्षा का मात्र 40 प्रतिशत ही बारिश हुई है. ऐसे में विभाग द्वारा नलकूपों की मरम्मत ना कराए जाने से संकट बढ़ गया है. बारिश ना होने के कारण तिलौथू, नौहट्टा, रोहतास प्रखंडों में खेती पूरी तरह से नलकूपों पर आश्रीत है. सासाराम, चेनारी, नासरीगंज के कुछ इलाकों में भी नलकूप खराब होने से खेती प्रभावित हो रही है.

Leave a Reply