रोहतास में धावा दल ने 5 कोचिंग सेंटर को किया सील; जुर्माना भी वसूला, शटर बंद कर अंदर चल रही थी क्लास

लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए सरकार के गाइडलाइन का पालन अभी भी लोग ठीक से नहीं कर रहे. इसको देखते हुए रोहतास जिले में पुलिस-प्रशासन सख्त कदम उठा रही है. डेहरी डालमियानगर नगर परिषद के राजपुताना मुहल्ला, डालमियानगर एवं बस्तीपुर में गुरुवार की सुबह प्रशासन के धावा दल ने छापेमारी कर 5 कोचिंग सेंटर को सील कर दिया है.

धावा दल ने देखा कि कोरोना गाइडलाइन का धज्जियां उड़ाकर बंदी के बावजूद कोचिंग संस्थान चल रहा है. कोचिंग सेंटर बाहर से शटर बंद करके भीतर कलासे चला रहा था और सीधा सीधा प्रशासन की आंखों में धूल झोंकने का काम कर रहा था. धावा दल के अधिकारियों ने फौरन कोचिंग को सील कर दिया. इसके साथ ही 13 हजार रुपये का आर्थिक दंड भी लगाया गया है.

प्रशासन के अनुसार, राजपुताना मोहल्ले में कोरोना काल में बंदी के बावजूद कोचिंग केंद्र संचालित किए जा रहे थे. बाहर से बंद दिखा कर अंदर ही अंदर चुपके-चुपके कोचिंग सेंटर चल रहे थे. सीओ अनामिका कुमारी के नेतृत्व में सुबह सात बजे धावा दल पहुंचा, तो हडकंप मच गया. धावा दल ने एसएस कोचिंग सेंटर, मेही कोचिंग सेंटर, राजवंशी टाइपिंग इंस्टीट्यूट समेत 5 कोचिंग संस्थानों को संचालित सील करते हुए 13 हजार का अर्थदण्ड लगाया गया है.

बता दें कि कोरोना काल में सबसे अधिक सक्रियता डेहरी में छापेमारी दलों के द्वारा दिखाई जा रही है. जबकि अन्य नगर क्षे़त्रों में प्रशासनिक धावा दल सक्रिय नजर नहीं आ रहे हैं. जिला मुख्यालय सासाराम में भी कोचिंग केंद्र और संस्थान कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं करते हुए संचालित किए जा रहे हैं, परंतु कोई कार्रवाई नहीं हो रही है. धावा दल में सीओ अनामिका कुमार, नप के सिटी मैनेजर मनोज भारती समेत अन्य शामिल थे.

Ad.

Leave a Reply