सासाराम सदर अस्पताल में दीदी की रसोई का हुआ उद्घाटन, मरीजों को मिलेगा पौष्टिक व शुद्ध भोजन

सासाराम सदर अस्पताल के ओपीडी कैंपस में बने दीदी की रसोई का शनिवार को डीएम धर्मेन्द्र कुमार ने उद्घाटन किया. उद्घाटन कार्यक्रम में पहुंचे डीएम, एसपी, डीडीसी व एसडीएम ने दीदी की रसाई का भोजन चखकर कहा, वाह बहुत बढि़या स्वाद है. उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारी व जीविका की पूरी टीम के प्रयासों का सराहा. कार्यक्रम को ले दीदी की रसोई गेट के आगे रंगोली बनाई गई थी. रसोई गेट को फूलों से सजाया गया था.

बताया जाता है कि जीविका के दर्पण समूह को सदर अस्पताल में खोले गए दीदी की रसोई के संचालन की जिम्मेदारी मिली है. रसोई में काम करने वाली दीदियों को प्रशिक्षण मिला है. अस्पताल में भर्ती मरीजों को दीदियों के हाथ से बनी खाना शनिवार से मिलना शुरू हो गया है. मरीजों के लिए यह सुविधा निःशुल्क होगी. इसके साथ ही मरीज के परिजनों, स्टॉफ व अन्य लोगों कोको भी बाजार से कम कीमत में भोजन उपलब्ध होगा.

डीएम ने कहा कि सदर अस्पताल में हर दिन बड़ी संख्या में दूर दराज के मरीजों का आना होता है. विभिन्न रोग से ग्रसित मरीज सहित प्रसव पीड़िताओं को संतुलित भोजन उपलब्ध कराना हमेशा से बड़ी चुनौती रहा है. चूंकि, जीविका दीदियों ने एक से बढ़कर एक चुनौतियों का सफलता पूर्वक सामना कर अपने आप को साबित किया है. इस कार्य को भी सरकार ने जीविका दीदियों को सौपा है.

उन्होंने कहा कि इससे एक तरफ मरीजों के परिजनों एवं अस्पताल में कार्यरत कर्मियों को गुणवतापूर्व भोजन उपलब्ध होगा. इसके संचालन से जीविका दीदियों की आमदनी में भी बढ़ोतरी होगी. यह रोजगार सृजन का एक बेहतरीन उदाहरण है. उन्होंने कहा कि रसोई में बनने वाला सभी पकवान उच्च गुणवत्ता के होंगे, जो मरीजों के साथ साथ आमजन के लिए भी बहुत फायदेमंद वाला होगा. मौके पर सिविल सर्जन डॉ अखिलेश कुमार, जीविका की रिचा नन्दा, बैजन्ती देवी, मीना देवी, माया देवी, आकांक्षी मिश्रा, रविन्द्र कुमार, सुधीर कुमार समेत अन्य कर्मी मौजूद थे.

Leave a Reply