रोहतास के डीएम गांव में रात्रि विश्राम कर सुनेंगे जनता की शिकायत, कल इस ग्राम पंचायत से होगी शुरुआत

रोहतास के जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार ने एक अनोखी पहल की है. आम लोगों के बीच रहकर उनकी समस्याओं को बेहद करीब से जानने और उनके निराकरण के उद्देश्य से अब जिले के बड़े अधिकारी गांवों में रात्रि प्रवास कर उनकी समस्याएं सुनेंगे. इससे न सिर्फ सरकारी की कल्याणकारी योजनाओं से आम लोग रूबरू होंगे, बल्कि गांवों में सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं में बेहतर सुधार की भी उम्मीद है.

इसकी शुरुआत 15 जून को कोचस प्रखंड के रेड़िया पंचायत सरकार भवन से होगी, जहां डीएम धर्मेंद्र कुमार के साथ जिला के तमाम प्रशासनिक अधिकारियों की टीम विश्राम करेगी. इस दौरान डीएम खुद भी उक्त क्षेत्र के लोगों से रूबरू होकर उनकी समस्याओं को सुन त्वरित निष्पादन करेंगे. जिला सूचना जनसंपर्क पदाधिकारी सत्यप्रिय कुमार ने बताया कि आमजनों को सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं से अवगत कराने, स्थानीय स्तर पर प्रशासन की सभी इकाईयों के माध्यम से सरकारी सेवाओं का लाभ पहुंचाने एवं जन शिकायतों को दूर कर लोगों में प्रशासन के प्रति विश्वास कायम रखने के लिए शिविर का आयोजन किया जा रहा है.

उन्होंने बताया कि ग्राम पंचायत अनुश्रवण सह रात्रि विश्राम शिविर का आयोजन निर्धारित तिथि के शाम चार बजे से किया जाएगा. शिविर में संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, भूमि सुधार उप समाहर्ता, अनुमंडल पदाधकारी के साथ प्रखंड व जिला स्तरीय पदाधिकारी उपस्थित रहेंगे. पदाधिकारियों द्वारा वार्डवार योजनाओं का निरीक्षण व जांच की जाएगी. रात्रि विश्राम के दूसरे दिन सुबह सात बजे उक्त पंचायत के अन्य कल्याणकारी योजनाओं तथा ग्रामीणों से प्राप्त शिकायतों के आलोक में निरीक्षण किया जाएगा. जांच के बाद योजनाओं की समीक्षा की जाएगी.

इधर, डीएम के रात्रि विश्राम की खबर सुनते ही अधिकारियों में हड़कंप मचा है. प्रखंड क्षेत्र में गांवों के नालियों की सफाई हो गई, गांव की गलियां चमकने लगीं. प्रखंड कार्यालय में सभी विभागीय अधिकारियों ने अपने-अपने विभागों से जुड़े दस्तावेजों को चुस्त-दुरस्त करना शुरू कर दिया है. बताया जा रहा है डीएम सभी विभागों का स्थलीय निरीक्षण भी करेंगे. इस दौरान डीएम के नेतृत्व में कोचस के सभी पंचायतों में गठित टीम दौरा करेगी और विभिन्न योजनाओं के तहत कराए गए विकास कार्यों को धरातल पर उतारा गया है कि नहीं इसकी जानकारी जुटाएगी. जिसे जांच के बाद अधिकारियों के द्वारा डीएम के समक्ष रखा जाएगा.

Leave a Reply