रोहतास में ड्रोन कैमरे से चला अभियान, देसी शराब की 26 भट्ठियां ध्वस्त

शराब माफियाओं पर नकेल कसने और धंधे पर रोक लगाने के लिए रोहतास जिले में अब आसमान से निगरानी की जा रही है. जिले में पहली बार पुलिस व उत्पाद विभाग ने शराब धंधेबाज़ों के खिलाफ ड्रोन कैमरे से कार्रवाई की गई है. पहले दिन ही उत्पाद विभाग को इस ड्रोन की मदद से सफलता मिली है.

उत्पाद विभाग ने दरिगांव थाना क्षेत्र के कैमूर पहाड़ी स्थित गोरिया-भखोरवा गांव के जंगल में नैनी नदी के किनारे चल रही 26 महुआ देसी शराब की भट्ठियों का ड्रोन से पता लगाया और उसे ध्वस्त कर दिया. पहाड़ी पर शराब की भट्ठियों को नष्ट करने के लिए उत्पाद विभाग की टीम दरिगांव से पहाड़ की चढ़ाई की और ड्रोन कैमरे से जैसे-जैसे शराब की भट्ठी दिखी, उसे नष्ट कर दिया गया. पहाड़ी पर ड्रोन कैमरे को आसमान में उड़ते देख शराब तस्करों में भगदड़ मच गई.

इधर, बिक्रमगंज व राजपुर इलाके में काव नदी के दियारा इलाके में झाड़ियों के बीच भी उत्पाद विभाग के ड्रोन से निगरानी की गई. हालांकि दियारा इलाके में उत्पाद विभाग को कोई सफलता नहीं मिली है. उत्पाद अधीक्षक अमृता कुमारी ने बताया कि जहां टीम को पहुंचने में समय लगता है और दिक्कत भी होती है. ड्रोन की मदद से इसमें आसानी होगी.

उन्होंने बताया कि फिलहाल ये ड्रोन कैमरे जिला को नहीं मिला है. मुख्यालय से ही एक्सपर्ट के साथ भेजा गया था. बताया कि ग्रामीण इलाकों में जो सुदूर बस्ती हैं, और जहां शराब बनाई जाती है. वैसे जगहों पर भी विशेष अभियान इस ड्रोन की मदद से चलाया जाएगा. क्योंकि सुदूर इलाके में जबतक टीम पहुंचती है. धंधेबाज फरार होने में सफल रहते हैं. लेकिन, ड्रोन से इसपर नकेल कसा जा सकता है.

Leave a Reply