रोहतास के जीएनएसयू में नए कुलपति डॉ. महेंद्र कुमार सिंह ने पदभार संभाला

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के क्षेत्रीय नेत्र संस्थान के प्रमुख एवं विख्यात नेत्र सर्जन डॉक्टर महेंद्र कुमार सिंह ने मंगलवार को रोहतास जिले के जमुहार स्थित गोपाल नारायण सिंह विश्वविद्यालय के द्वितीय कुलपति के रूप में पदभार ग्रहण कर लिया. इस अवसर पर कुलाधिपति गोपाल नारायण सिंह, सचिव गोविंद नारायण सिंह एवं प्रबंध निदेशक त्रिविक्रम नारायण सिंह ने विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन में उनका स्वागत किया एवं योगदान लिया.

डॉक्टर महेंद्र कुमार सिंह क्षेत्रीय नेत्र संस्थान इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान पटना के भी विभागअध्यक्ष रह चुके हैं. साथ ही वहां के सब डीन के पद को भी सुशोभित कर चुके हैं. इसके अलावा बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के नेत्र रोग विभाग के अध्यक्ष भी रह चुके हैं तथा राष्ट्रीय चिकित्सा परिषद के स्नातक एवं स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के एसेसर के रूप में भी कार्य कर चुके हैं. डॉक्टर सिंह ने स्नातक चिकित्सा के नेत्र विज्ञान विभाग में कई पुस्तकों के संपादक के रूप में कार्य किया है तथा एक सौ से अधिक राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय जर्नलस में उनके आलेख प्रकाशित हुए हैं.

डॉक्टर सिंह रिसर्च एसोसिएट, रीडर एवं प्रोफेसर के पद को भी सुशोभित कर चुके हैं तथा नैक के सदस्य के रूप में उन्होंने दर्जनों संस्थानों का निरीक्षण किया हैं. उन्होंने 1980 में बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से चिकित्सा स्नातक होने के बाद 1985 में बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से ही नेत्र रोग विभाग में सर्जरी की उपाधि प्राप्त की. उसके बाद विभिन्न पदों को सुशोभित करते हुए 2018 से अब तक बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के क्षेत्रीय नेत्र संस्थान के प्रमुख के रूप में कार्य कर रहे थे. डॉ सिंह बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में 2014 से 2021 तक छात्र कल्याण शाखा के डीन के रूप में तथा मुख्य डॉक्टर के रूप में भी कार्य कर चुके हैं.

इसके अलावा अखिल भारतीय नेत्र विज्ञान सोसायटी एवं ग्लुकोमा सोसाइटी के सदस्य भी हैं. डॉ सिंह के गोपाल नारायण सिंह विश्वविद्यालय में योगदान करने पर प्रबंधन ने हर्ष व्यक्त किया है. मौके पर कुलसचिव डॉ राधेश्याम जायसवाल, परीक्षा नियंत्रक डॉक्टर कुमार आलोक प्रताप, अकादमीक निदेशक प्रोफेसर सुदीप कुमार सिंह, मुख्य लेखा अधिकारी संदीप विजय, जनसंपर्क पदाधिकारी भूपेंद्र नारायण सिंह समेत विश्वविद्यालय के विभिन्न अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित थे.

Leave a Reply