रोहतास: लोहा के पुराने पुल चोरी मामले में बालू माफिया गिरफ्तार

रोहतास जिले के नासरीगंज थाना क्षेत्र अमियावर से बहुचर्चित लोहे के पुराने पुल चोरी मामले में मंगलवार को पुलिस ने गांधी चौधरी को गिरफ्तार किया है. एसपी आशीष भारती ने मंगलवार को बताया कि पुलिस पुल चोरी मामले में मुख्य एवं दर्जनभर कांडों के अभियुक्त गांधी चौधरी की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी कर रही थी. इस क्रम में सोमवार को जानकारी मिली कि गाँधी चौधरी को नासरीगंज में देखा गया है. जिसके बाद पुलिस ने छामेपरी कर अमियावर गांव निवासी गांधी चौधरी को नासरीगंज के पडुरी गांव से गिरफ्तार कर लिया है.

एसपी ने बताया कि गांधी चौधरी के गिरफ्तारी में शामिल पुलिस कर्मियों को पुरस्कृत किया जाएगा. गांधी चौधरी के पास से एक फार्चुनर कार, एक मोटा व एक पतला सोने का सिकड़ी, एक सोने का ब्रेसलेट, चार सोने का अंगुठी, पांच एंड्राइड मोबाइल व 37 हजार रूपया जब्त किया गया है. उन्होंने बताया कि गांधी चौधरी पर 19 मामले दर्ज है. जिसमें नासरीगंज थाना में आठ, एससी-एसटी थाना में एक, काराकाट थाना में एक, दरिहट थाना में एक, डेहरी नगर थाना में दो व सासाराम मुफस्सिल थाना में दो प्राथमिकी दर्ज है.

इसके अलावे औरंगाबाद जिले के ओबरा थाना में दो व हसपुरा थाना में एक मामले दर्ज है. झारखंड के बोकारो बीएससिटी थाना में उसपर हत्या का मामला दर्ज है. एसपी ने बताया कि गांधी चौधरी ने नासरीगंज थाना के उक्त कांड में अपनी संलिप्तता स्वीकार किया है. उन्होंने बताया कि गांधी चौधरी द्वारा हाल ही में रोहतास पुलिस को बदनाम करने के नियत से सोशल मीडिया पर शराब की होम डिलीवरी का प्रयोजित वीडियो बनाकर वायरल कराया गया था, जिसमें भी इनकी संलिप्तता पाई गई थी.

बता दें कि रोहतास के नासरीगंज थाना क्षेत्र के अमियावार गांव में लोहे का एक पुराना पुल था, जिसे काटकर चोरी कर लिया गया था. मामले में गत 6 अप्रैल को प्राथमिकी दर्ज की गई थी. मामले में पुलिस ने सिंचाई विभाग के एसडीओ व राजद नेता समेत आठ लोगों को गिरफ्तार की जा चुकी है. पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए बिक्रमगंज एसडीपीओ के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया था. एसआइटी ने मामले में कार्रवाई करते हुए घटना के 24 घंटे में 8 लोगों को गिरफ्तार किया था तथा पुल से चोरी किए गए लोहे को एक कबाड़ी दुकान से बरामद किया था.

Leave a Reply