रोहतास: डीएम के निर्देश पर 55 पंचायतों की 110 स्कूलों की हुई जांच, लापरवाह शिक्षकों पर होगी कार्रवाई

रोहतास जिले में डीएम धर्मेंद्र कुमार के निर्देश पर गुरूवार की सुबह जिले की 55 पंचायतों के 110 मध्य विद्यालयों की जांच की गई. संबंधित बीडीओ, सीओ व एमओ ने विद्यालयों की जांच के दौरान बुनियादी सुविधाओं से लेकर पठन-पाठन से संबंधित हरेक बिंदुओं की समीक्षा की. सुबह 6:30 से 9:30 बजे तक जांच का दौर चलता रहा. दोपहर डेढ़ बजे डीएम ने जांच अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए समीक्षा की. जांच में क्या-क्या मिला, उसकी भी जानकारी ली.

जांच में कुछ विद्यालयों में गड़बड़ियों पाई गई हैं. उनके साथ-साथ, अन्य सभी विद्यालयों का भी विस्तृत जांच प्रतिवेदन गोपनीय शाखा में जमा कराने का निर्देश सभी संबंधित पदाधिकारियों को दिया गया है. जांच प्रतिवेदनों के आधार पर जिला शिक्षा पदाधिकारी को संबंधित प्रधानाध्यापकों के साथ बैठक कर उचित अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए डीएम को संसूचित करने का निर्देश भी दिया गया है.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी क्षेत्रीय पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए डीएम ने कहा कि विद्यालयों में आधारभूत संरचना का विकास काफी हद तक कर लिया गया है. अब गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करना हम सबों की सर्वोच्च प्राथमिकता होनी चाहिए. किसी भी विद्यालय का स्थूल शरीर जहां आधारभूत संरचना है, वहीं अच्छी शिक्षा विद्यालय की आत्मा है और अच्छी शिक्षा के लिए सभी शिक्षकों की ससमय उपस्थिति एवं उनकी शिक्षण के प्रति प्रतिबद्धता अनिवार्य है. उक्त कार्य मे शिथिलता को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा एवं लापरवाह शिक्षकों पर कठोर कार्रवाई की जाएगी.

उन्होंने कहा कि सरकारी विद्यालय में पढ़ने वाले अधिकांश बच्चे गरीब व वंचित तबकों से आते हैं और उन्हें गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिले. उनके व्यक्तित्व का समग्र विकास हो, ऐसा सुनिश्चित कर के ही हम समाज को समृद्ध एवं विकसित बना सकते हैं. उन्होंने यह भी कहा कि विद्यालयों की जांच एवं औचक निरीक्षण का कार्य सतत रूप से एवं एक अभियान के तौर पर आगे भी चलता रहेगा.

Leave a Reply