रोहतास के त्रिवेणी ने राज्य में टॉप 10 में बनाई जगह, 478 अंक लाकर जिले में किया टॉप

बिहार बोर्ड ने मैट्रिक 2022 का रिजल्ट गुरुवार को जारी कर दिया. इस दौरान शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने रिजल्ट की घोषणा करते हुए बताया कि इस बार कुल 79.88 स्टूडेंट्स पास हुए हैं. औरंगाबाद की रामायणी रॉय ने 487 अंकों के साथ टॉप किया. वहीं, टॉप 10 में 47 विद्यार्थी शामिल हैं. टॉप 5 में 8 छात्र-छात्राएं हैं. जिनमें चार लड़के और चार लड़कियां हैं. वहीं, रिजल्ट आने के बाद से ही पास हुए बाकि बच्चों के परिवार में भी खुशी का माहौल देखने को मिला. सभी टॉपर के घर में बधाई का ताता लग गया.

रोहतास जिले में भी परिणाम घोषित होते ही मैट्रिक में सफल छात्रों के साथ साथ परिजनों में खुशी देखी गई. जिले में डिहरी प्रखंड के उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय गंगोली के त्रिवेणी नारायण प्रिय ने टॉप 10 में जगह बनाई तथा अपने जिले रोहतास में टॉप किया है. त्रिवेणी नारायण ने 478 अंक लाकर बिहार में दसवां स्थान हासिल किया. वहीं, उच्च माध्यमिक विद्यालय करवंदिया सासाराम का छात्र परदेशी कुमार ने 477 अंक लाकर कर जिले में दूसरा स्थान प्राप्त किया हैं. जबकि उदासी हरि चरण हाईस्कूल अररुआ करगहर का छात्र उदित राज ने 476 अंक लाकर जिले में तीसरा स्थान प्राप्त किया हैं.

जिला टॉपर त्रिवेणी नारायण प्रिय के पिता हनुमान महतो एक किसान हैं तथा वह अपनी छोटी सी भूमि पर कृषि कार्य कर अपना घर परिवार चलते हैं. त्रिवेणी की माता धर्मशीला देवी एक गृहणी हैं तथा वह कृषि कार्यों में अपने पति का हांथ बटाती हैं. उनकी 11 संतान है, 6 बेटियां और 5 बेटे. त्रिवेणी सबसे छोटा बेटा है. पिता कहते हैं कि बेटे ने आज टॉप कर परिवार एवं जिले का सम्मान बढ़ाया है. परिवार में उत्सव का माहौल है. लोग बधाई दे रहे हैं.

गौरवान्वित पिता ने कहा कि बेटे को पढ़ाने में कोई कसर बाकी नहीं रखेंगे, ताकि आगे वह और अच्छा कर सके और परिवार का नाम करे. त्रिवेणी ने बताया कि आगे वह पढ़-लिख कर आईएएस बन देश की सेवा करना चाहता है. त्रिवेणी की प्रारंभिक से लेकर हाई स्कूल तक की शिक्षा गांव में ही हुई. गंगोली मध्य विद्यालय में वर्ग 1 से लेकर 8 तक की पढ़ाई पूरी किया तथा विद्यालय को उत्क्रमित होने के पश्चात हाई स्कूल की शिक्षा भी उसी विद्यालय में ग्रहण किया है.

विद्यालय के प्राचार्य उत्तम नारायण सिंह ने बताया कि त्रिवेणी नारायण प्रिय शुरू से प्रतिभाशाली छात्र रहा है और अपने वर्ग में हमेशा प्रथम स्थान प्राप्त करता रहा है. जिले में टॉप तथा राज्य में भी टॉपरों में स्थान बनाकर उसने स्कूल को गौरवान्वित किया है. बता दें कि पिछले साल टॉप-10 में कुल 101 छात्रों ने जगह बनाई थी. 484 अंक हासिल करके नालंदा की शुभदर्शनी, जमुई की पूजा और रोहतास के संदीप कुमार ने संयुक्त रूप से पहला स्थान प्राप्त किया था.

Leave a Reply