जल संसाधन मंत्री ने इंद्रपुरी बराज का किया निरीक्षण, 2.30 करोड़ की लागत से बने पार्क का किया उद्घाटन, तुतला भवानी भी पहुंचे मंत्री

बिहार सरकार के जल संसाधन तथा सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री संजय कुमार झा शुक्रवार शाम रोहतास जिले के दौरे पर पहुंचे. यहां उन्होंने इंद्रपुरी बराज का निरीक्षण करने के साथ बराज पार्क का उद्घाटन किया. इसके बाद तिलौथू प्रखंड स्थित तुतला भवानी इको पर्यटन स्थल भी पहुंचे. दौरे के क्रम में मंत्री ने इंद्रपुरी बराज का निरीक्षण किया. बराज के फाटकों की स्थिति का जायजा लिया तथा अधिकारियों से कई जानकारी ली.

इस दौरान बाणसागर व रिहंद से मिलने वाले पानी के इंद्रपुरी बराज पर पहुंचने को लेकर अधिकारियों से जानकारी प्राप्त की. नियंत्रण कक्ष के बारे में भी जानकारी ली. अधिकारियों ने बताया कि अब नियंत्रण कक्ष से ऑटोमेटिक सिस्टम के माध्यम से पानी की पूर्ण जानकारी प्राप्त होती है. इसके बाद मंत्री ने इंद्रपुरी स्थित सिंचाई विभाग के अतिथि गृह में अधिकारियों के साथ बैठक की. बैठक में मंत्री ने इंद्रपुरी जलाशय परियोजना व काव नदी निर्माण कार्य समेत अन्य विभागीय कार्यों की रिपोर्ट मांगी. कई बिंदुओं पर अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिया. मंत्री ने सोन नहर आधुनिकीकरण कार्य के बारे में अधिकारियों से पूरी रिपोर्ट ली.

उन्होंने कहा कि विभाग की पहली प्राथमिकता है कि नहरों के माध्यम से खेतों तक पानी पहुंचाया जाए. साथ ही यह भी कहा कि यदि किसी भी अधिकारी द्वारा विभागीय कार्यों में अनियमितता या लापरवाही बरती गई तो उन पर कार्रवाई की जाएगी. निरीक्षण के दौरान मंत्री ने वर्षों पूर्व विभाग द्वारा निर्मित इन्द्रपुरी बराज पार्क का उद्घाटन किया. पार्क के उद्घाटन उपरांत मंत्री ने पत्रकारों से कहा कि करीब 30 हजार वर्गमीटर में दो करोड़ 30 लाख रुपए की लागत से निर्मित सोन बराज पार्क से इंद्रपुरी बराज पर पर्यटकों की संख्या अधिक बढ़ेगी. उन्होंने अधिकारियों को पार्क के रखरखाव के लिए आउटसोर्सिंग से व्यवस्था करने का निर्देश दिया.

इस पार्क में वाकिंग पाथ-वे, ओपनजिम, म्यूजिकल फाउन्टेन, कृत्रिम जलप्रपात आदि का निर्माण कराया गया है. मंत्री ने कहा कि आने वाले दिनों में पर्यटक स्थल की तरह इंद्रपुरी बराज के आसपास के क्षेत्रों को विकसित किया जाएगा. इसके बाद मंत्री शुक्रवार की देर शाम तिलौथू प्रखंड के कैमूर पहाड़ी के गोद में स्थित मां तुतला भवानी इको पर्यटन स्थल पहुंचे, जहां उन्होंने तुतला धाम मंदिर जाकर मत्था टेका. उन्होंने इस पर्यटन स्थल पर वन विभाग द्वारा किए गए विकास कार्यों की सराहना की. कहा कि यहां की रमणीक घाटी मनमोहक है. इस स्थल को इको टूरिज्म स्थल के रूप में विकसित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा कई कार्य किये गये हैं.

Leave a Reply