रोहतास पुलिस को मिली बड़ी सफलता, हथियार के साथ लुटेरा गिरोह के सरगना समेत चार गिरफ्तार

रोहतास पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. पुलिस के विशेष टीम ने लुटेरा गिरोह के सरगना समेत चार लुटेरों को गिरफ्तार किया है. इनकी गिरफ्तारी डेहरी मुफस्सिल थाना के पुरानी जीटी रोड के सुअरा हवाई अड्डे के पास अपराध की योजना बनाते वक्त हुई है. लुटेरों के पास से पुलिस ने दो देसी कट्टा, पांच जिंदा कारतूस, तीन मोटरसाइकिल, छह मोबाइल के साथ लूट के 81 हजार 200 रुपये जब्त की है. गिरफ्तार लुटेरों ने चार लूटकांड में अपनी संलिप्ता स्वीकार की है. एसपी आशीष भारती ने बताया कि डेहरी, डालमियानगर, राजपुर और सासाराम में हाल के महीनों में घटी लूटपाट की घटनाओं के उद्भेदन के लिए एक टीम का गठन किया गया था. इसमें एसडीपीओ डेहरी संजय कुमार एवं सासाराम एएसपी अरविंद प्रताप सिंह के नेतृत्व में पुलिस उपाधीक्षक प्रशिक्षु खुर्शीद आलम व संजय जसवाल , डेहरी नगर थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर चन्द्रशेखर गुप्ता ,डेहरी मुफस्सिल थानाध्यक्ष राजीव कुमार, सासाराम नगर थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर कामाख्या नारायण सिंह, सासाराम मुफ्फसिल थानाध्यक्ष देवराज राय, तिलौथू थानाध्यक्ष मनोज कुमार, अकोढ़ी गोला थानाध्यक्ष प्रभात कुमार और जिला आसूचना इकाई के पुलिसकर्मी शामिल थे.

शुक्रवार देर रात सूचना मिली कि डेहरी मुफस्सिल थाना के सुअरा हवाई अड्डे के पास कुछ अपराध कर्मी एकत्रित होकर किसी बड़ी घटना को अंजाम देने वाले है. उन्होंने बताया कि सूचना मिलते विशेष टीम को सुअरा हवाई अड्डे के पास भेजा गया, जहां संदिग्ध अवस्था में दो अपाची बाइक पर सवार चार अपराधियों को गिरफ्तार किया गया. गिरफ्तार अपराधियों में डेहरी के लालकृष्ण गुप्ता, सासाराम के राहुल कुमार, सनी सिंह व दानिश खान को गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार अपराधियों के पास से लूटी गई राशि 81 हजार 200, दो देसी कट्टा, पांच जिंदा कारतूस, दो अपाची मोटर साइकिल एवं छह मोबाइल बरामद किया गया.

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों ने डेहरी मुफस्सिल थाना क्षेत्र के पुरानी जीटी रोड पर तेंदुआ दुसाधी गांव के पास गत तीन अप्रैल को अमेजन कंपनी के प्रबंधक राजेश शरण श्रीवास्तव, पांच अप्रैल को राजपुर थाना अंतर्गत अकोढ़ी गोला राजपुर रोड में नीमा गांव के पास डेहरी के व्यवसाई राजन कुमार, नौ मई को डालमियानगर थाना क्षेत्र के मकराइन पुल के पास अशोक कुमार सिंह और सासाराम मुफस्सिल थाना अंतर्गत करबंदिया पेट्रोल पंप के प्रबंधक उपेंद्र सिंह से किए गए लूटपाट में अपनी संलिप्तता स्वीकार किया है. उन्होंने बताया कि इन कांडों में शामिल अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है. एसपी ने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों के अपराधिक इतिहास का पता किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि जिला पुलिस के लिए यह बड़ी उपलब्धि है. इस कांड के उद्भेदन में शामिल सभी पुलिसकर्मियों को पुरस्कृत किया जाएगा.

Ad.

Leave a Reply