बीपीएससी एई परीक्षा में रोहतास के छात्रों ने लहराया परचम

बिहार लोक सेवा आयोग के असिस्टेंट इंजीनियर की परीक्षा में रोहतास जिले के तीन होनहारों ने सफलता हासिल की है. जिले के सासाराम शहर के फजलगंज निवासी कमलेश सिंह व सुशीला देवी के पुत्र विकास कुमार को बीपीएससी की असिस्टेंट इंजीनियर की परीक्षा में 88 वां रैंक हासिल हुआ है. विकास की प्रारम्भिक शिक्षा बाल विकास विद्यालय से हुई थी. आईआईटी खड़गपुर से एमटेक की डिग्री हासिल किए. उन्होंने कहा कि लगातार मेहनत और सही मार्गदर्शन से उसे यह सफलता मिली है. उन्होंने इसकी तैयारी करने वाले छात्रों को नियमित पढ़ाई करने व स्वाध्याय करने की सलाह दी है.

डेहरी शहर के न्यू एरिया के रहने वाले वाले अनुभव सहाय को बीपीएससी की असिस्टेंट इंजीनियर की परीक्षा में 153 वां रैंक हासिल हुआ है. अनुभव ने बताया कि मैट्रिक तक की शिक्षा डीएवी पब्लिक स्कूल कटार एवं इंटरमीडीएट की शिक्षा जेएलएन कॉलेज से हुई थी. उसके बाद आगे की पढ़ाई बीएमएससीइ बेंगलुरु से पूरा की. उनके पिता संजय कुमार सहाय अहमदाबाद के पीएनबी बैंक में पोस्टेड है. माता सिम्मी श्रीवास्तव गृहणी है. उन्होंने कहा कि लगातार मेहनत और सही मार्गदर्शन से उसे यह सफलता मिली है. उन्होंने इसकी तैयारी करने वाले छात्रों को नियमित पढ़ाई करने व स्वाध्याय करने की सलाह दी है. अनुभव ने अपनी सफलता का श्रेय अपनी माता-पिता एवं बड़े भाई को दिया है.

वहीं, करगहर प्रखंड के उग्रसेनपुर निवासी दीपक कुमार को बीपीएससी की असिस्टेंट इंजीनियर की परीक्षा में 605 वां रैंक हासिल हुआ है. दीपक की प्रारम्भिक शिक्षा गांव के ही विद्यालय से हुई थी. उन्होंने एनआईटी श्रीनगर से बीटेक एवं आईआईटी बीएचयू से एमटेक की डिग्री हासिल की. उनके पिता रामश्रित राय किसान है. उन्होंने कहा कि पिता जी हमेशा प्रेरित करते रहे. पिता जी ने किसानी करने के बाद भी पढ़ाई के दौरान किसी चीज की कमी नहीं होने दी. विदित हो कि दो दिन पहले बीपीएससी एई परीक्षा का रिजल्ट जारी हुआ है.

Ad.

Leave a Reply