सासाराम-आरा रेलखंड पर 90 किमी की रफ्तार से चलेंगी ट्रेनें, बढ़ेगी मेमू पैसेंजर ट्रेनों की संख्या

सासाराम-आरा डेमू ट्रेन

पूर्व मध्य रेलवे के महाप्रबंधक ललित चंद्र त्रिवेदी ने बुधवार को सासाराम जंक्शन से आरा जंक्शन तक विडो निरीक्षण किया. जिसके बाद उन्होंने सासाराम-आरा रेलखंड का दोहरीकरण करने समेत 20 पुल पुलिया सहित समपार फाटकों के निर्माण का निर्देश दिया है. साथ ही बहुत जल्द सासाराम-आरा रेलखंड पर चलने वाली ट्रेनों की गति बढ़ने वाली है.

Ad.

सासाराम-आरा रेलखंड विडो निरीक्षण में उन्होंने कई खामियां गिनवाई. साथ ही मुगलसराय डीआरएम राजेश कुमार पांडेय एवं इंजीनियर बृजेश कुमार सहित मुगलसराय रेलवे अधिकारी को निर्देश दिया कि सासाराम-आरा रेलखंड के दोहरीकरण करने को लेकर जल्द से जल्द डीपीआर तैयार करें. उन्होंने कहा कि सासाराम-आरा रेलखंड पर 20 पुल पुलिया सहित समपार फाटक एवं एक ओवर ब्रिज का निर्माण किया जाएगा. उन्होंने कहा कि सासाराम-आरा रेल लाइन पर दो जोड़ी और मेमो पैसेंजर ट्रेन चलाई जाएगी ताकि यात्रियों को किसी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े. महाप्रबंधक ने बताया कि आरा से सासाराम रेल लाइन पर पहले 60 से 70 की स्पीड में ट्रेन चला करती थी, अब यह ट्रेन 90 की स्पीड में चलेंगी. इससे यात्री समय सीमा के अंदर में अपने गंतव्य स्थान पहुंच जाएंगे. मुगलसराय के डीआरएम राजेश कुमार पांडेय ने बताया कि एक माह के अंदर कुछ तकनीकी फाल्ट को सुधार कर सभी पैसेंजर और एक्सप्रेस ट्रेनों को 90 की स्पीड में चलाई जाएगी.

बुधवार को सासाराम-आरा रेलखंड का विंडो निरीक्षण करते पुमरे के जीएम एवं डीडीयू के डीआरएम

विदित हो कि आरा-सासाराम रेलखंड पर दक्षिण और उत्तर बिहार को कम दूरी के साथ जोड़ने वाली महत्वपूर्ण रेलमार्ग है. इसे देखते हुए रेलवे बोर्ड जल्द दोहरीकरण करना चाहता है. इस रेलखंड पर पूरी तरह से परिचालन 2009 में तत्कालीन रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव ने शुरू की थी. उसके बाद से अब तक इसका दोहरीकरण नहीं हो पाया था. दोहरीकरण शुरू करने के पहले रेलवे ट्रेन की गति को बढ़ा लेना चाहता है.

Ad.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here