वायु प्रदूषण से निपटने के लिए डेहरी की सड़क पर उतरा एंटी-स्मॉग गन से लैस ट्रक

राज्य में पहली बार वायु प्रदूषण से निपटने के लिए डेहरी-डालमियानगर परिषद ने एक नायाब तरीका निकाला है. डेहरी में वायु गुणवत्ता में सुधार और धूल से होने वाले प्रदूषण के स्तर को नियंत्रित करने के लिए एंटी-स्मॉग गन से लैस ट्रक अब डेहरी शहर की सड़कों पर उतरा है. माना जा रहा है कि ट्रक आधारित एंटी-स्मॉग गन शहर में धूल प्रदूषण को कम करने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है. कोरोना की तीसरी लहर की आशंका है, ऐसे में इस एंटी-स्मॉग गन से शहर को सैनीटाइज भी किया जा सकेगा.

इस एंटी-स्मॉग गन को ट्रक पर लगाया गया है, वायु प्रदूषण को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा. ट्रक पर लगी इस एंटी-स्मॉग गन में 9000 लीटर की क्षमता वाला पानी का टैंक है और यह लगातार 4-5 घंटे काम करता रहेगा. 5000 लीटर का पानी का टैंक सड़कों के व किनारे पर स्थित पेड़ों को की धुलाई कर सकता है, और उन जमी धूल को खत्म कर सकता है. एंटी-स्मॉग गन में पानी को फब्वारे में तब्दील करने और हवा से पार्टिक्यूलेट मेटर को खत्म करने की सुविधा होती है.

गौरतलब है कि डेहरी में दिनभर उड़ने वाली धूल के चलते लोग काफी परेशान रहते है. धूल के कण स्वास्थ्य के लिहाज से भी नुकसानदायक हैं. शहर के सडकों पर धूल जमे होने के कारण, वायु प्रदूषण और ड्राइविंग करते समय समस्याएं बढ़ जाती हैं. डेहरी नप ईओ कुमार ऋत्विक ने बताया कि डेहरी नगर परिषद क्षेत्र में एंटी-स्मॉग गन से एंटी-स्मॉग गन से वायु प्रदूषण को 80 प्रतिशत तक नियंत्रित किया जायेगा. इससे शहर के धूल प्रदूषण को नियंत्रित किया जा सके.

Ad.

Leave a Reply