रोहतास जिले में तीन की हत्या: चाकू से गोदकर हत्‍या तो खेत की रखवाली कर रहे युवक को मारी गोली

रोहतास जिले में 24 घंटे के अंदर तीन लोगों की हत्या से सनसनी मच गई. अकोढ़ीगोला में अज्ञात अपराधियों ने चाकू से गोदकर एक युवक हत्या कर दी और शव को छुपाने की नियत से पुआल से ढक दिया. करगहर के घुरनपुर गांव में खेत की रखवाली कर रहे किसान की गोली मारकर हत्या कर दी गई. वहीं अगरेर थाना क्षेत्र में 20 वर्षीय युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई. जिले में लगातार हो रही आपराधिक घटनाओं के कारण स्थानीय लोगों में दहशत और पुलिस के प्रति आक्रोश बढ़ता जा रहा है.

Ad.

अकोढ़ीगोला में जिस युवक की हत्या की गई है, उसकी पहचान 26 वर्षीय गुल्ली विश्वकर्मा के रूप में हुई है. बताया जाता है कि गांव के किसान जब शुक्रवार सुबह में धान का बोझा हटाने गए तो वहां खून के छींटे देखे. इसके बाद आगे बोझा हटाया तो वहां खून से लथपथ विश्‍वजीत का शव पड़ा था. किसान यह देखकर हक्‍का-बक्‍का रह गया. उसने शोर मचाया. इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई. युवक के पूरे चेहरे पर चाकू से गोदने के निशान थे. शरीर के अन्‍य हिस्‍से पर भी जख्‍म थे. मृतक की मां शीला कुंवर गांव की ही एक महिला पर आरोप लगा रही थी. उसका कहना था कि गांव की एक महिला से विश्‍वजीत हमेशा मोबाइल पर बातें करता था. इसको लेकर वह बार-बार उसे टोकती थी. गुरुवार को उसने गुस्‍से में विश्‍वजीत का मोबाइल भी छीन लिया था ताकि वह उससे बातें नहीं करे. देर शाम गांव का ही अमरजीत नामक एक युवक आया. उसने कहा कि उसे ट्रेन पकड़ना है. रात करीब दस बजे विश्‍वजीत उसे ट्रेन पकड़ाने के लिए चला. तब उसने मां से कहा कि वह अपना मोबाइल उसे दे दे ताकि बातें हो सके. तब वह अपनी मां का मोबाइल लेकर निकला था. रात में वह लौटा नहीं. मोबाइल पर बातें भी नहीं हो पा रही थी. जानकारी के मुताबिक विश्‍वजीत कुमार ने करीब दस वर्ष पूर्व गांव के ही एक युवक की हत्‍या कर दी थी. घटना के समय विश्‍वजीत नाबालिग था. एएसपी संजय कुमार का कहना है कि हत्या के कारणों की जानकारी ली जा रही है तथा अपराधियों को चिन्हित कर गिरफ्तारी का आदेश अकोढ़ीगोला थानाध्यक्ष को दिया गया है.

दूसरी वारदात करगहर थाना क्षेत्र के घुरनपुर गांव में हुई, जहां गुरुवार देर रात सशस्त्र अपराधियों ने खलिहान में धान की रखवाली कर रहे एक युवा किसान की गोली मारकर हत्या कर दी. घटना के संबंध में बताया जाता है कि 35 वर्षीय शशिकांत राय उर्फ टप्पू राय खलिहान में रखे धान की रखवाली कर रहा था. इस बीच सशस्त्र अपराधियों ने उन्हें घेर लिया और उनके सिर में गोली मार दी, जिससे घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है.

थानाध्यक्ष सुशांत कुमार मंडल ने बताया कि ग्रामीणों के अनुसार रात गांव के समीप खलिहान में धान की रखवाली करने के लिए शशिकांत राय अपने चचेरे भाई रमाकांत राय, उसके चरवाहा समेत चार लोगों के साथ सोए हुए थे. शशिकांत लखनऊ में हार्डवेयर की दुकान चलाते हैं. वे हाल ही में गांव आए थे. रात लगभग 1:30 बजे खलिहान में पहुंचे दो सशस्त्र अपराधियों ने शशिकांत राय पर ताबड़तोड़ गोलि की बौछार कर दी, जिससे घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई. अगल बगल में सोए लोग घटना के संबंध में कुछ समझ पाते तबतक रात में छाए कुहासा का फायदा उठाकर अपराधी भाग निकले. चचेरे भाई रामाकांत राय के बयान पर दो अज्ञात अपराधियों के विरूद्ध हत्या की प्राथमिकी दर्ज की गई है. घटना के कारणों का अबतक स्पष्ट पता नहीं चल पाया है. पुलिस मामले की गहन छानबीन में जुटी है. इधर घटना के बाद मृतक के स्वजन शोक में डूबे हुए हैं.

वहीं, शुक्रवार को 20 वर्षीय युवक की हत्या करने के बाद बदमाश फरार हो गए है. घटना अगरेर थाना क्षेत्र की बताई जा रही है. जबकि मृतक राज कुमार झलखोरिया का रहनेवाला बताया जा रहा है. घटना के सम्बन्ध में बताया जा रहा है की आपसी रंजिश में इस घटना को अंजाम दिया गया है. मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है. शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है. उधर इस घटना के बाद मृतक के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है.  

Leave a Reply