रोहतास: 3002 की जांच में मिले मात्र दो पॉजिटिव, डीसीएचसी में अब केवल सात मरीज बचे

फाइल फोटो

रोहतास जिले में कोरोना संक्रमण का नया मामला पिछले 10 दिनों से नियंत्रण के बीच कभी कम तो कभी बढ़ रहा है. इस बीच कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या लगातार घट रही है. पिछले 24 घंटे के दौरान के जिले में 3002 लोगों की जांच में मात्र दो पॉजिटिव मरीज मिले है, जबकि सात मरीज कोरोना को मात देकर स्वस्थ हुए हैं. वहीं, बुधवार तक सदर अस्पताल के डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में केवल सात मरीज बचे है. जबकि अनुमंडलीय अस्पताल डेहरी एवं अनुमंडलीय अस्पताल बिक्रमगंज तथा एनएमसीएच जमुहार के कोविड वार्डों में अब एक भी मरीज भर्ती नहीं है, ये पूरी तरह से खाली हो चुके हैं. जिससे जिला प्रशासन हो या स्वास्थ्य विभाग या फिर जिले की आम जनता सभी ने राहत की सांस ली है.

जिला स्वास्थ्य समिति द्वारा जारी बुलेटिन के मुताबिक लगातार ग्यारवें दिन किसी भी कोरोना संक्रमित की मौत नहीं हुई है, जो सबसे बड़ी राहत की बात है. वहीं, सक्रिय मरीजों की संख्या भी घटकर 71 रह गई है. सक्रिय मरीजों में 66 रोहतास एवं 5 दूसरे जिले के हैं. जिसमें से सात को इलाज के लिए डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर में भर्ती कराया गया है. जबकि 66 को होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी गई है. वहीं रेलवे स्टेशन पर संग्रहित 97 यात्रियों की सैंपल में से किसी में कोरोना का लक्षण नहीं मिला है. अनलॉक के पहले दिन बाजारों एवं सड़कों पर लोग लापरवाह बन घूमते दिखे गए. कई लोग तो बिना मास्क दिखे. उन्हें लगता है कि कोरोना अब पूरी तरह से खत्म हो चुका है. लेकिन, अभी कोरोना की चेन को पूरी तोड़ने को लिए सभी को कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन करना होगा.

सिविल सर्जन डॉ सुधीर कुमार ने कहा कि जिले में घटते नए मामले एवं इससे हो रही मौत का सिलसिला थमना राहत भरी खबर है. उन्होंने कहा कि अभी संक्रमण का खतरा टला नहीं है. ऐसे में हम लोगों को सावधानियां बरतते रहने की आवश्यकता है. उन्होंने लोगों से अपील की कि घटते संक्रमण से लोग पूरी तरह से निश्चिंत ना हो जाए. साथ ही उन्होंने लोगों से अपील की कि कोरोना का टीका अवश्य लगाएं क्योंकि यह टीका भी संक्रमण प्रसार रोकने में कारगर साबित हो रहा है. टीका वाहन घरों तक पहुंच रहा है तो लोग टीका को लेकर भ्रांतियों को अपने दिमाग से निकाल टीकाकरण कराएं.

Leave a Reply