रोहतास: संजीव मिश्रा हत्याकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

करगहर विधायक संतोष मिश्रा के नाती संजीव मिश्रा की हत्या का मुख्य आरोपी निरंजन राय को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. एसपी आशीष भारती ने बताया कि बुधवार रात्रि में गुप्त सूचना मिला कि उक्त हत्या कांड का अभियुक्त निरंजन राय परसथुआ बाजार में हैं. सूचना मिलने के बाद एसपी ने सासाराम एएसपी के नेतृत्व में पूर्व से गठित विशेष टीम को परसथुआ भेजा. जहां से छापेमारी कर पुलिस ने अभियुक्त निरंजन राय को गिरफ्तार कर लिया. निरंजन मुख्य रूप से कुदरा थाना के सलथुआ गांव का निवासी है.

विदित हो कि 27 फरवरी को करगहर विधायक के नाती परसथुआ निवासी संजीव मिश्र को अपराधियों द्वारा गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. संजीव की हत्या विधानसभा तक गूंजी थी. पुलिस ने त्वरित कार्रवाई कर लाइनर धर्मेंद्र यादव को गिरफ्तार किया गया था तथा एक विधि-विरुद्ध बालक को निरुद्ध किया गया था. निरंजन की गिरफ्तारी के लिए 22 मार्च को पुलिस ने घर की कुर्की-जब्ती तक की थी. लेकिन निरंजन अपने भाई के साथ गांव छोड़ फरार हो गया था. दोबारा परसथुआ में किसी योजना को अंजाम देने के लिए आने की सूचना पर पुलिस ने दबोचा लिया. उल्लेखनीय है कि पूछताछ के क्रम में उक्त अपराधकर्मी के द्वारा बताया गया है कि मृतक तथा इनके परिवार के बीच पुराना विवाद चल रहा है. उक्त अपराधियों द्वारा बताया गया है कि मृतक के द्वारा इनके पिता की हत्या 2012 में कर दी गई थी. इसका बदला लेने के लिए इस घटना को अंजाम दिया गया था.

गिरफ्तार निरंजन का आपराधिक इतिहास रहा है. उसके विरुद्ध परसथुआ ओपी थाना कांड संख्या 28/21 व 47/12, कैमूर के कुढ़नी थाना कांड संख्या 25/14, कुदरा था कांड संख्या 118/20 व 248/12 और बक्सर के डुमरांव थाना कांड संख्या 53/14 दर्ज हुआ है. निरंजन अवैध शराब का व्यवसाय भी करता है. वह बनारस से शराब की आपूर्ति बिहार के कई जिलों में करता है. एसपी ने बताया कि शेष बचे अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी की जा रही है. एएसपी अरविंद प्रताप सिंह के नेतृत्व में गठित विशेष टीम में सासाराम मुफ्फसिल इंस्पेक्टर, परसथुआ व भानस ओपी थानाध्यक्ष, कोचस व करगहर थानाध्यक्ष, जिला आसूचना इकाई एवं अन्य पुलिसकर्मी शामिल थे. एसपी ने कहा कि टीम में शामिल पुलिस पदाधिकारी को पुरस्कृत किया जाएगा.

Ad.

Leave a Reply