सासाराम: लॉकडाउन में जरूरतमंदों को मिला सहारा, सुबह-शाम मिल रहा भरपेट भोजन

सासाराम के ओझा टाउन हॉल में कम्युनिटी किचन में भोजन परोसते कार्यपालक पदाधिकारी अभिषेक आनंद

लॉकडाउन के दौरान सासाराम नगर परिषद क्षेत्र में रह रहे या फिर बाहर से आए जरूरतमंद मुसाफिर के लिए अच्छी खबर है. उन्हें अब अपनी भूख मिटाने की चिता नहीं करनी है. जिला प्रशासन के निर्देशानुसार सासाराम नगर परिषद ने ऐसे जरूरतमंद लोगों के लिए सामुदायिक किचन शुरू किया है. शहर के ओझा टाउन हॉल में इस किचन का संचालन हो रहा है. यहां सुबह-शाम जरूरतमंद लोग मुफ्त भोजन कर रहे है. भोजन कराने के लिए कुर्सी-टेबल लगाया गया है. साथ ही वैसे जरूरतमंद व्यक्ति जो सामुदायिक किचन तक आने में सक्षम नहीं है उनके लिए मोबाइल व व्हाट्सएप नंबर 7979779517 / 7004328980 जारी किया गया है. जरूरतमंद व्यक्ति इस नंबर पर संपर्क पर भोजन का पॉकेट मांगा सकते है.

सासाराम के ओझा टाउन हॉल में कम्युनिटी किचन में भोजन करते लोग

कार्यपालक पदाधिकारी अभिषेक आनंद द्वारा बताया गया कि आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा दिए गए आदेश के आलोक में एवं जिला प्रशासन के निर्देशानुसार नगर परिषद सासाराम द्वारा गरीब, मजदूर व जरुरतमंद व्यक्तियों के लिए सामुदायिक किचन की व्यवस्था की गई है. इस सामुदायिक किचन में आने वाले जरूरतमंद लोगों को चावल, पुरी, चने की दाल, सलाद के साथ कोई भी हरी सब्जी दी जा रही है. खाद्यान्न और हरी सब्जी की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान रखा जाता है. किचन में स्वयं सहायता समूह के सदस्यों द्वारा खाना बनाने का कार्य किया जा रहा है. खाने के साथ-साथ वैसे व्यक्ति जो बिना मास्क के आते हैं उनको मास्क भी वितरित किया जाता है. इस कार्य में शहर के युवा परमजीत सिंह एवं अंकुश कुमार भी वॉलेंटियर के रूप में सहयोग कर रहे है.

ईओ ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान शहर के श्रमिकों एवं गरीबों को भोजन में कठिनाई नही हो. इसी कठिनाई को ध्यान में रखते हुए सामुदायिक रसोई का संचालन किया जा रहा है. सामुदायिक किचन में स्वच्छता बरकरार रहे, वही भोजन की गुणवत्ता बेहतर रहे. इसके लिए कार्यपालक पदाधिकरी अभिषेक आनंद खुद गंभीर है. यही वजह है कि वे प्रतिदिन सामुदायिक किचन का खुद निरीक्षण करते हुए भोजन की क्वालिटी ओर मास्क, स्वच्छता, तौर तरीकों को स्वयं देखते है. खुद के हाथों से खाना भी परोसते है.

Ad.

Leave a Reply