रोहतास में महिला दिवस पर हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम में झूमे दर्शक; गीत, संगीत व नृत्य की बही सांस्कृतिक बयार

रोहतास जिला मुख्यालय सासाराम के मल्टीपर्पस हॉल में जिला प्रशासन के तत्वावधान में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया. जिसमें महिला कलाकारों ने शानदार प्रस्तुति की. उद्घाटन डीएम धर्मेंद्र कुमार, एसपी आशीष भारती एवं डीडीसी शेखर आनंद ने संयुक्त रूप दीप प्रज्वलित से किया.

डीएम ने महिलाओं को महिला दिवस की बधाई दी. कहा कि महिलाओं के उत्थान से घर, समाज एवं देश का कल्याण होगा. सरकार चाहती है कि महिलाएं आत्मनिर्भर बनें. महिला सशक्तिकरण से ही देश सशक्त होगा. उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि महिलाओं को सशक्त करने को लेकर विभिन्न योजनाएं संचालित है जो कि नारी सशक्तिकरण की प्रक्रिया को मजबूती प्रदान करती है. उन्होंने कहा कि महिलाएं आज हर क्षेत्र में रोल मॉडल के रूप में अपनी चमक बिखेर रही हैं.

कार्यक्रम में कलाकारों ने एकल गीत, गजल, समूह नृत्य, समूह गान, सरस्वती वंदना, शास्त्रीय नृत्य, लघु नाटिका की प्रस्तुति कर दर्शकों का मन मोह लिया. उक्त कार्यक्रम में सर्वप्रथम एकल नृत्य के माध्यम से श्रेयसी शांडिल्य ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत किया. उसके बाद अति पिछड़ा बालिका आवासीय विद्यालय मोकर की छात्राओं ने समूह नृत्य प्रस्तुत किया. तत्पश्चात अमलतास निकेतन तिलौथु के कलाकारों ने महिला सशक्तिकरण पर समूह गान प्रस्तुत करते हुए दर्शकों का दिल जीता. साथ ही बाल विकास परियोजना रोहतास द्वारा बाल विवाह पर आधारित लघु नाटिका प्रस्तुत किया गया. घायल डांस एकेडमी सासाराम एवं रोहतास महिला महाविद्यालय सासाराम की छात्राओं ने समूह गान प्रस्तुत किया.

जबकि रोहतास योग संघ द्वारा योग आधारित नृत्य देख दर्शक चकित हो उठे. इसके बाद एकल नृत्य में महिमा साक्षी ने सुंदर नृत्य प्रस्तुत किया जबकि एकल शास्त्रीय गायन में ज्योति कुमारी ने भी प्रस्तुति दी. स्वर साम्राज्ञी लता जी की स्मृति में मनोरमा कुमारी ने एकल गायन प्रस्तुत किया तथा राधा कुमारी ने ग़ज़ल की प्रस्तुति दी. कार्यक्रम के अंत में कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले सभी कलाकारों को सम्मानित किया गया. कार्यक्रम में महिलाओं की प्रेरणा श्रोत बनी डॉ रीभा तिवारी तथा महिला किसान उद्यमी संगीता जी को भी सम्मानित किया गया. कार्यक्रम का मंच संचालन आकाशवाणी की महिला उद्घोषिका उषा कुमारी एवं रागिनी श्रीवास्तव ने किया.

कार्यक्रम को सफल बनाने में संगीत शिक्षकों की भी महत्वपूर्ण भूमिका रही. जिन्होंने संगत कलाकार के रूप में सभी कलाकारों का साथ दिया. जिसमें मुख्य रुप से मोहम्मद शाकिर, विश्वजीत कुमार, दुलारचंद, संजय कुमार, सचिन दुबे, आनंद तिवारी, वंदना कुमारी, ओम केश्वर चौबे, साथ ही शारीरिक शिक्षक के रूप में विनय कृष्ण. अरविंद कुमार सिंह, रानू कुमार ने भी कार्यक्रम को सफल बनाने में  महती भूमिका निभाई. डीएम ने कार्यक्रम से जुड़े सभी अधिकारियों एवं कर्मियों को शुभकामनाएं दीं. इस दौरान अनुमंडल पदाधिकारी मनोज कुमार, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी संतोष राय, डीपीआरओ सत्यप्रिय कुमार, वरीय उप समाहर्ता अनु पांडेय, रश्मि कुमारी, जिला परिवहन पदाधिकारी प्रवीण चंदन, अवर निर्वाचन पदाधिकारी रंजय कुमार सहित कई वरीय पदाधिकारी ने उपस्थित होकर कलाकारों का हौसला बढ़ाया.

Leave a Reply