मां तुतला भवानी इको पर्यटन स्थल पर नवनिर्मित पर्यटक सुविधाओं का हुआ उद्घाटन

जिले के तिलौथू प्रखंड में कैमूर पहाड़ी की गोद मे बसे मां तुतला भवानी इको पर्यटन स्थल पर सुविधा हेतु नवनिर्मित पैदल झुला पुल, सुलभ प्रसाधन काम्प्लेक्स एवं सीढ़ी के जीर्णोद्धार कार्य का लोकार्पण मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किये. इन सभी योजनाओं का कार्य पर्यावरण वन एवं जल वायु परिवर्तन विभाग अंतर्गत रोहतास वन प्रमंडल द्वारा कराया गया है.

Ad.

58.28 लाख की लागत से बने तुतला भवानी में बने झुला पुल की लम्बाई 110 मीटर है, जबकि चौड़ाई दो-डेढ मीटर. मालूम हो कि तुतला नदी के कटीले व नुकैले पत्थर से चोटिल होने का डर बना रहता था. कभी-कभार बूढ़े व बच्चे पत्थर से ठोकर खाकर गिर भी जाते थे. बारिश के दिनों में धाम तक पहुंचना मुश्किल हो जाता है. नदी के पानी मे इतना धार होता है कि उसे पार करना बहुत मुश्किल हो जाता है. वैसे स्थिति में धाम पर जाने से रोक लगा दी जाती है. लेकिन, इस अब झुला पुल बनने से यह समस्या नहीं रहेगी.

इस झुला पुल पर एक साथ 30 लोग जा सकते है. यह पुल पूर्णतः पर्यावरण अनुकूल तथा इको फ्रेंडली है. इसके अतिरिक्त मां तुतला भवानी परिसर को प्लास्टिक मुक्त परिसर घोषित करते हुए जगह-जगह कूड़ेदान लगाए गए हैं, जिससे परिसर स्वच्छ बना रहे.

डीएफओ प्रद्युम्‍न गौरव ने बताया कि तुतला भवानी अति मनोरम प्राकृतिक रमणीक जगह है. इसे इको टूरिज्म के रूप में विकसित किया जा रहा है. जिससे पर्यावरण को नुकसान भी न हो और सारी सुविधाएं यहां उपलब्ध हों. तुतला भवानी धाम में सीढ़ी का जीर्णोद्धार, नदी के ऊपर झुला पुल एवं सुलभ प्रसाधन काम्प्लेक्स का लोकापर्ण माननीय मुख्यमंत्री द्वारा किया गया. अब इस झुला पथ से लोगों का आवागमन शुरू हो जायेगा.

Leave a Reply