रोहतास में कड़ी व्यवस्था में होगी मैट्रिक की परीक्षा, डीएम बोले- बर्दाश्त नहीं होगी लापरवाही

रोहतास जिले में मैट्रिक परीक्षा के सफल संचालन के लिए सासाराम समाहरणालय स्थित डीआरडीए सभागार में सोमवार को डीएम धर्मेन्द्र कुमार ने दंडाधिकारियों व केंद्राधीक्षकों के साथ समीक्षा बैठक की. इसमें उन्होंने साफ तौर पर कहा कि किसी भी परिस्थिति में परीक्षा में नकल बरदाश्त नहीं की जायेगी.

Ad.

उन्होंने कहा कि 17 से 24 फरवरी तक जिले में 60 परीक्षा केंद्रों पर दो पालियों में यह परीक्षा होगी. पहली पाली की परीक्षा सुबह 9:30 बजे से 12:45 बजे तक व दूसरी पाली की परीक्षा दो बजे से 5:15 बजे तक होगी. इस वर्ष परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए 66364 परीक्षार्थियों ने परीक्षा फॉर्म भरा है. उन्होंने कहा कि परीक्षा के लिए निर्धारित समय से दस मिनट पूर्व परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र में प्रवेश की अनुमति होगी. परीक्षा के दौरान परीक्षार्थियों के लिए मास्क की अनिवार्यता होगी. उन्होंने कहा क परीक्षा केंद्रों से दौ सौ मीटर की परिधि में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू होगा. परीक्षा में मोबाइल व ब्लूटूथ आदि इलेक्ट्रॉनिक उपकरण पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा. उन्होंने परीक्षा केंद्रों पर लाउडस्पीकर, सीसीटीवी आदि स्थापित करने तथा एक बेंच पर सिर्फ दो परीक्षार्थियों के बैठने की व्यवस्था करने का निर्देश केंद्राधीक्षकों को दिया.

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए कोविड-19 के निर्देशों का अनुपालन करने का निर्देश भी डीएम ने बैठक में दिया. वहीं पुलिस अधीक्षक आशीष भारती ने कहा कि परीक्षा अवधि के दौरान पूरे जिले में यातायात व्यवस्था सुदृढ़ रखने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की जाएगी. जिससे परीक्षार्थियों को जाम की समस्या से न जूझना पड़े. बैठक के दौरान उप विकास आयुक्त सुरेंद्र प्रसाद, एडीएम लालबाबू सिंह, जिला शिक्षा पदाधिकारी संजीव कुमार, सदर एसडीओ मनोज कुमार, डीएसपी विनोद कुमार राउत सहित तीनों अनुमंडल के अनुमंडलाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी मौजूद रहे.

Leave a Reply