रोहतास में डीएम की बैठक में गैरहाजिर डीसीएलआर का वेतन कटा

रोहतास के जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार ने शुक्रवार को अपने कार्यालय कक्ष में भू राजस्व से जुड़े मामलों की समीक्षा बैठक की. बैठक में डीएम ने अंचलों में अमीन के स्तर पर नापी हेतु लंबित मामलों के प्राथमिकता के आधार पर शीघ्र निष्पादन का निर्देश दिया. उक्त की प्रत्येक सप्ताह में समीक्षा करने का निर्देश भूमि सुधार उप समाहर्ताओं को दिया गया.

डीएम ने ऑनलाइन जमाबंदी के कार्य में तेजी लाने का निर्देश सभी अंचल अधिकारियों को दिया. भूमि विवाद की थानास्तर पर बैठकें एवं उनके फलाफल की भी समीक्षा की गई. इस दौरान भूमि सुधार उप समाहर्ता डेहरी श्वेता मिश्र अनुपस्थित पाई गईं. जिससे फलस्वरूप डीएम ने उनका एक दिन का वेतन काटने का निर्देश रेवेन्यू प्रभारी को दिया.

वहीं बैठक में भूमि सुधार उप समाहर्ता बिक्रमगंज द्वारा बताया गया कि काराकाट पंचायत भवन के लिए पहुंच पथ की आवश्यकता है और रैयती भूमि के कारण उसका निदान नहीं हो पा रहा है. जिसपर डीएम ने जिला पंचायत राज पदाधिकारी को निर्देश दिया कि उक्त स्थिति में या तो नई भूमि आवंटित की जाए या फिर पहुंच पथ के लिए उचित समाधान किया जाए.

भूमि सुधार उप समाहर्ता सासाराम द्वारा बताया गया कि अनहारी मौजा में सीलिंग विवाद चल रहा है, जिसके निपटारे के लिए सभी आवश्यक प्रयास किये जा रहे हैं. कोचस बस स्टैंड के अतिक्रमण के मामले में डीएम ने अनुमंडल पदाधिकारी सासाराम को निर्देश दिया कि अतिक्रमण मुक्ति की कार्यवाही अतिशीघ्र की जाए. डीएम ने सभी भूमि विवादों का सतत पर्यवेक्षण एवं अनुश्रवण करते हुए उनका निपटारा करने तथा भूमि रिकॉर्ड व जमाबंदी की ऑनलाइन एंट्री के कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिया. उन्होंने बताया कि इस दिशा में अंचल अधिकारी रोहतास का कार्य सराहनीय है.

Leave a Reply