यूपी का चोर गिरोह रोहतास के आभूषण दुकानों में करता था चोरी, रोहतास पुलिस ने तीन को किया गिरफ्तार; बंगाल से महाराष्ट्र तक जुड़ा है कनेक्शन

रोहतास पुलिस ने जिले में सक्रिय अंतरराज्यीय चोर गिरोह का खुलासा करते हुए गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है. जिसमें से दो सदस्य उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले के निवासी है. शुक्रवार को एसपी आशीष भारती ने प्रेस वार्ता कर मामले की जानकारी दी. एसपी ने कहा कि जिले में विगत कुछ दिनों से राजपुर, करगहर, चेनारी, काराकाट, परसथुआ, तिलौथू थाना क्षेत्र में रात्रि के समय सोना, चांदी के दुकानों में अज्ञात अपराधकर्मियों के द्वारा चोरी की घटना को अंजाम दिया जा रहा था. जिसे लेकर विशेष ठीम का गठन किया गया था.

एसपी ने बताया कि राजपुर के एक आभूषण दुकान में चोरी के बाद तहकिकात कर रही पुलिस को एक मोबाइल मिला था. उसी मोबाइल फोन के आधार पर गिरोह के सरगना की गिरफ्तारी की गई है. जिसके तकनीकी आधार पर यह स्पष्ट हुआ कि घटना कारित करने वाले अपराधकर्मियों का तार उत्तर प्रदेश अन्तर्गत बदायूं जिला से जुड़ा है. अपराधकर्मियों के सत्यापन एवं त्वरित कार्रवाई हेतु विशेष टीम को उत्तर प्रदेश राज्य अन्तर्गत बदायूं जिला भेजा गया. विशेष टीम ने बदायूं जिले के कादर चौक थाना के भोजपुर एवं धनुपुरा गांव में गुप्त रूप से रह कर सभी सकिय अपराधकर्मियों का सत्यापन किया गया.

जिससे जानकारी प्राप्त हुआ कि भोजपुर एवं धनुपुरा गांव के सक्रिय अपराधकर्मी बिहार समेत अन्य कई राज्यों में सक्रिय रहकर घटना कारित कर रहे है. इनके कुछ सदस्य वर्तमान में रोहतास, भोजपुर एवं औरंगाबाद जिले में अपनी पहचान छुपाकर रह रहे है एवं कुछ स्थानीय अपराधकर्मियों के संपर्क में रहकर लगातार घटना कारित कर रहे है. इस सूचना पर के बाद तकनीकी अनुसंधान आधार पर रोहतास जिले के राजपुर थाना क्षेत्र से राम निवास चौहान एवं नेता को गिरफ्तार किया गया है. दोनों उत्तर प्रदेश केक बदायूं जिले के धनुपुरा गांव के रहनेवाले हैं.

इनकी निशानदेही पर एक अन्य सदस्य नोखा थाना क्षेत्र के बरांव निवासी धर्मराज पासवान को गिरफ्तार किया गया है. धर्मराज द्वारा अंतर्राज्यीय गिरोह के सदस्यों को बुलाया जाता था एवं घटना कारित करने के लिए किराये पर मकान उपलब्ध कराया जाता था तथा चोरी के माल में हिस्सेदारी लिया जाता था. धर्मराज पासवान के घर से चोरी के गहने, पैसे एवं दुकान के सटर तोड़ने के ढेर सारे औजार बरामद किया गया है. यह गिरोह मुख्य रूप से रोहतास, भोजपुर, औरंगाबाद, सीतामढ़ी एवं मुजफ्फरपुर इत्यादि जिलों में सकिय था. साथ ही इस गिरोह ने बंगाल, उड़ीसा, महाराष्ट्र, तमिलनाडु में भी सक्रिय रह कर घटना कारित किया है.

एसपी ने कहा कि गिरफ्तार अभियुक्तों द्वारा रोहतास, औरंगाबाद, भोजपुर एवं अन्य जिलो के कई कांडों में अपनी-अपनी संलिप्तता स्वीकार किया गया है तथा इस गिरोह के सरगना एवं अन्य सदस्यों के संलिप्त रहने के संबंध में बताई गई है. विशेष टीम द्वारा इस गिरोह के बाकी सदस्यों के गिरफ्तारी एवं चोरी गए आभूषण की बरामदगी के लिए लगातार छापेमारी किया जा रहा है. एसपी ने छापेमारी दल में शामिल पुलिस पदाधिकारियों एवं कर्मियों को पुरस्कृत किया है.  

Leave a Reply