रोहतास: विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में डीएम ने सीएससी का कार्य पूरा नहीं होने पर 10 प्रखंड समन्वयकों का वेतन रोका

रोहतास जिला मुख्यालय सासाराम स्थित समाहरणालय के संवाद कक्ष में डीएम धर्मेन्द्र कुमार ने सोमवार को विकास शाखा तथा सात निश्चय योजनाओं से संबंधित अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की. बैठक में सामुदायिक स्वच्छता परिसर का कार्य पूरा नहीं होने के आरोप में जिला के कई प्रखंड समन्वयकों का वेतन स्थगित रखते हुए उनको शोकॉज किया गया है.

डीएम ने कहा कि दावथ में एक, डेहरी में तीन, काराकाट में सात, करगहर में एक, कोचस में एक, नासरीगंज में एक, नोखा में दो, राजपुर में एक, सासाराम में दो, शिवसागर में दो यानी कुल 21 सामुयिक स्वच्छता परिसर का कार्य निर्माणाधीन है. इस कारण संबंधित प्रखंड के प्रखंड समन्वयकों का वेतन बंद किया जा रहा है.

डीएम ने सभी लंबित सीएससी को एक सप्ताह में पूर्ण करने का ब्लॉक कोऑर्डिनेटर को निर्देश दिया है. साथ ही, इस माह तक सभी सीएससी के पूर्ण नहीं होने की स्थिति में संबंधित ब्लॉक कोऑर्डिनेटर पर विभागीय कार्रवाई हेतु अनुशंसा भी की जाएगी. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में लाभार्थियों के निबंधन से लेकर पीएमएवाई की किश्तों का निर्धारित समय सीमा के अनुरूप भुगतान सुनिश्चित किया जाना है. मनरेगा में जिलास्तर से सभी प्रखंडों को लक्ष्य दिए जा रहे हैं जिन्हें ससमय पूरा करना है.

उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार का शिकायत प्राप्त होने पर संबंधित पदाधिकारी व कर्मी के विरुद्ध विधिसम्मत कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने सात निश्चय- पेयजल योजना हेतु आईओटी डिवाइस लगाने के लिए सतत अनुश्रवण करते हुए आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया. बैठक में डीडीसी शेखर आनंद, डायरेक्टर डीआरडीए मुमताज आलम, सिविल सर्जन डॉ अखिलेश कुमार, डीपीओ तथा संबंधित अन्य कई पदाधिकारी मौजूद थे.

Leave a Reply