रोहतास: अब अरवा चावल भी जमा करेंगे पैक्स, 60-40 के अनुपात में एसएफसी को देंगे सीएमआर

फाइल फोटो

उसना-अरवा के फेर में फंसे मिलरों के लिए राहत भरी खबर है. अरवा राइस मिल के फिर से चालू होने की उम्मीद जग गई है. पैक्स अध्यक्ष अब 60-40 के अनुपात में एसएफसी को सीएमआर देंगे. यानि की 60 प्रतिशत अरवा एवं 40 प्रतिशत उसना चावल का सीएमआर राज्य खाद्य निगम को पैक्स अध्यक्ष देंगे. नए निर्देश को लेकर डीएम धर्मेंद्र कुमार ने गुरुवार को आपूर्ति सह अधिप्राप्ति टास्क फोर्स की बैठक में अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी जारी कर दिया है.

अधिप्राप्ति से लेकर सीएमआर तक मामले में रोहतास जिला सूबे में पहले पायदान पर है. जिसे ले समाज सुधार अभियान कार्यक्रम के दौरान डीआरडीए संवाद कक्ष की बैठक में मुख्यमंत्री ने तारीफ भी की थी. बता दें कि 13 जनवरी तक 201178.689 टन धान की खरीद कर ली गई है, जबकि 64496 टन सीएमआर एसएफसी को जमा किया गया. लेकिन उसना चावल के नए नियम से मिलर से लेकर पैक्स व व्यापार मंडल अध्यक्ष तक को परेशानी को सामना करना पड़ रहा था. क्योंकि आवश्यकता के अनुसार जिले में उसना चावल का मिल नहीं है, जहां पर पैक्स व व्यापार मंडल की ओर से धान को भेजा जा सके.

पिछले दिनों समाज सुधार अभियान कार्यक्रम के दौरान बैठक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पूर्व मंत्री जयकुमार सिंह ने यहां मिलरों एवं किसानों के हित में अरवा चावल पैक्सों को जमा करने के लिए आवश्यक निर्देश देने का अनुरोध किया था. इनके अलावे करगहर विधायक संतोष मिश्रा समेत अन्य विधायकों व विधान पार्षदों ने भी सीएमआर में अरवा चावल को भी प्राथमिकता देने की मांग की थी.

Leave a Reply