रोहतास: ब्लैक फंगस से शिक्षिका की वाराणसी में इलाज के दौरान मौत

प्रतीकात्मक तस्वीर

ब्लैक फंगस से डेहरी की एक शिक्षिका की इलाज के दौरान वाराणसी में मौत हो गई. वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ राज्य में लागू लॉकडाउन के बाद संक्रमण धीरे-धीरे कम हो रहा है. किन्तु अब नए रूप से शुरू ब्लैक फंगस कोरोना वायरस से भी अधिक घातक साबित होने लगा है. 15 दिनों से ब्लैक फंगस की शिकार डेहरी शहर की एक शिक्षिका की मौत की खबर से चिकित्सकों के साथ आम लोगों की चिंताएं बढ़ गई हैं.

बताया जाता है कि मृतका 52 वर्षीय तनीमा मित्रा डेहरी के एक निजी विद्यालय में शिक्षिका थीं. उनके पति विजय मित्रा वेयर हाउस में भभुआ में कार्यरत हैं. यूपी के वाराणसी की मूल निवासी पाली रोड में रह रही मृतका के पति ने बताया कि 28 अप्रैल को तबीयत खराब होने के बाद उसे डेहरी की निजी क्लीनिक में इलाज कराया गया. जहां चिकित्सकों ने बेहतर इलाज हेतु वाराणसी रेफर कर दिया. वाराणसी की एक निजी क्लीनिक में इलाज कराने के दौरान ब्लैक फंगस की जानकारी मिली. शिक्षिका के निधन से शिक्षा जगत से जुड़े लोगों में शोक की लहर दौड़ गई.

Ad.

Leave a Reply