सासाराम में जलजमाव को लेकर दुकानदारों ने किया प्रदर्शन

बीते दिनों से हो रही भारी बारिश के साथ ही रूक-रूक कर बारिश से सासाराम शहर के कई इलाके जलमग्न हो गए हैं. कई वार्डों में बाढ़ जैसा नजारा उत्पन्न हो गया है, जिससे लोगों की मुसीबतें काफी बढ़ गई है. दफ्तर से लेकर आवास तक पानी घूस गया है. शहर का व्यवसायिक ईलाका धर्मशाला रोड में भी जलमग्न है. इस रोड में व्यवसायिक केंद्रों के कारण लोगों का आना-जाना लगा रहता है. धर्मशाला रोड में जलजमाव के कारण गुरुवार को प्राय: सभी दुकानें बंद रहीं. कोरोना काल से लेकर अब तक लगातार व्यवसायिक क्षति झेल रहे व्यवसायियों ने गांधी स्मारक के पास सड़क पर उतर कर नगर निगम की उदासीनता के कारण अपना क्षोभ व्यक्त किया. बताया कि जलजमाव होने के कारण दुकानों में पानी घुसने से माल खराब हो गया है. नाला का सफाई नहीं होने के कारण रोड में जल जमाव हुआ है. इस दौरान दुकानदारों ने नगर निगम-सांसद व विधायक के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

दुकानदारों का कहना है कि शहर में विगत कई सालों से बारिश के दिनों में यह समस्या झेलना पड़ता है, लेकिन नगर निगम इसका कोई समाधान नहीं निकाल पा रही है. बुड़को के द्वारा पिछले तीन साल से बनाए जा रहे स्टोर्म ड्रेनेज सिस्टम के फेज एक का काम भी निर्धारित समय सीमा बीत जाने के बाद भी पूरा नहीं होने पर लोगों ने आक्रोश जताया. सदर एसडीएम मनोज कुमार के साथ नगर आयुक्त राजेश कुमार गुप्ता ने गांधी स्मारक के पास सड़क पर उतरे व्यवसायियों को जलजमाव से निदान दिलाने के लिए हर संभव प्रयास करने का आश्वासन भी दिया.

वहीं शहर के मुहल्लों की हालत तो कुछ ऐसी हो गई है कि लोगों का रहना भी अब मुहाल हो रहा है. सदर अस्पताल, समाहरणालय, अनुमंडल कार्यालय परिसर, नगर निगम कार्यालय झील में तब्दील हो गया है. यहां तक कि अधिकारी के आवास में भी पानी जम गया है. शहर के उत्तरी क्षेत्र में बारिश का पानी पुरानी जीटी रोड पर चढ़ गया है. साथ ही माइको से पूरब पुराने जीटी रोड व एसपी जैन कालेज मार्ग के ऊपर से पानी बह रहा है. शहर के अड्डा रोड, पंजाबी मोहल्ला, गौरक्षणी, फजलगंज, न्यू एरिया, गोला बाजार, नवरतन बाजार, चौक बाजार, इमली आदम खां सहित तमाम पुराने मोहल्लों में पानी जमा रहने से लोगों की परेशानी बढ़ गई है. सड़क पर बह रहा गंदा पानी नालियों के जरिए कई घरों में प्रवेश कर रहा है.

नगर आयुक्‍त राजेश कुमार गुप्‍ता ने बताया कि शहर में बारिश के बाद जलजमाव की समस्या पर नगर निगम की पैनी नजर है. पूर्व में भी कई ऐसे स्थानों पर जहां जलजमाव की समस्या है, वहां पंप से पानी निकालने का कार्य कराया जा रहा है. वर्षा होने के बाद जलजमाव की समस्या स्वाभाविक है. अभी संसाधनों की भी कमी है फिर भी निगम के कर्मी पहुंच पानी निकालने का प्रयास कर रहे है.

Leave a Reply