रोहतास: कोचस समेत तीन सीओ को शोकॉज, वेतन भी स्थगित

सासाराम स्थित जिला समाहरणालय के ग्रामीण विकास अभिकरण सभागार कक्ष में गुरुवार को डीएम धर्मेंद्र कुमार की अध्यक्षता में जिला समन्वय समिति की बैठक आयोजित की गई. बैठक के दौरान डीएम ने नल-जल, नली गली, जल जीवन हरियाली सहित कई योजनाओं की समीक्षा की. जिसमें ऑनलाइन म्यूटेशन में फिसड्डी रहे कोचस, तिलौथू व चेनारी के सीओ का अगले आदेश तक वेतन स्थगित करते हुए उनसे तीन दिन के अंदर स्पष्टीकरण की मांग की गई. जबकि करगहर के अलावा कोचस के विरूद्ध विभागीय जांच कराने का भी निर्णय लिया गया.

इस दौरान सभी एसडीएम को निर्देश दिया गया कि वे अपने क्षेत्र में संचालित होने वाले कोचिंग संस्थानों की जांच करा उसका निबंधन कार्य तत्काल पूरा करें. कोरोना महामारी को देखते हुए जिला स्तर पर चल रही सभी तैयारियों की भी समीक्षा की. संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए डीएम ने कहा कि कोविड-19 गाइडलाइन का अनुपालन सख्ती से कराना सुनिश्चित करें. गाइडलाइन के अनुपालन में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी. कोविड-19 गाइडलाइन के तहत ही दुकानों को बंद कराने का कार्य जिलास्तरीय अधिकारी करेंगे.

बैठक में डीएम ने स्पष्ट रूप से अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि पंचायती राज विभाग के तहत कार्यरत डॉटा ऑपरेटर व व लेखापाल की उपस्थिति विवरणी बीडीओ के माध्यम से जिला को आएगी. नल-जल की लंबित सभी योजनाओं को शीघ्र पूरा कर उसे निश्चय सॉफ्ट पर अपलोड करने का निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया गया. साथ ही पीएचईडी को सख्त हिदायत दी गई कि वे जिले में खराब चापाकलों को तत्काल मरम्मत करा उसे चालू कराएं, ताकि लोगों को पेयजल के लिए परेशानियों का सामना न करना पड़े.

Ad.

Leave a Reply