धनकढ़ा हत्याकांड मामले में दो आरोपितों ने न्यायालय में किया आत्मसमर्पण

फाइल तस्वीर

सासाराम मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के धनकढ़ा गांव में बीते चार अप्रैल को आपसी विवाद में वकील राम को लाठी व डंडे से पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी. घटना के बाद सासाराम के पोस्टऑफिस चौक को जाम किया गया था. मामले को राजनीतिक रंग भी दिया गया था. ऐसे में पुलिस काफी दबाव में थी. मृतक के पत्नी ने गांव के ही अभियुक्तों पर प्राथमिकी दर्ज कराई थी. अभियुक्तों के गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी. पुलिस के दबिश के बाद दो अभियुक्तों ने शनिवार न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया है.

एसपी आशीष भारती ने बताया कि बीते चार अप्रैल को वकील राम को मारपीट कर हुए हत्या के मामले में दो अभियुक्तों ने न्यायालय में आत्मसपर्मण कर दिया है. आत्मसमर्पण करने वालों में मोनु यादव एवं सोनु यादव शामिल हैं. दोनों अभियुक्त धनकढ़ा गांव के चंद्रमा सिंह यादव के बेटे है और आपस में भाई है. उन्होंने बताया कि उक्त घटना में पूर्व में भी दो अभियुक्तों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा जा चुका है.

एसपी ने बताया कि सोनु एवं मोनु यादव के आपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है. अबतक प्राप्त जानकारी के अनुसार सोनु यादव पर सासाराम मुफ्फसिल थाना में आधा दर्ज मामले दर्ज हैं. इनमें पांच मामले एससी-एसटी के दर्ज है. जबकि एक मामला शराब के तस्करी का है. जबकि सोनु यादव पर सासाराम मुफ्फसिल थाना में एससी-एसटी के तीन मामले दर्ज हैं.

Leave a Reply