सासाराम में 21 व 22 को मनेगा शेरशाह महोत्सव, राष्ट्रीय व स्थानीय कलाकार करेंगे शिरकत

कोरोना काल के दो साल बाद सासाराम में 21 व 22 मई को शेरशाह महोत्सव का आयोजन किया जाएगा. जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार ने शेरशाह महोत्सव की तैयारी को लेकर बुधवार को अधिकारियों के साथ कलेक्ट्रेट में बैठक की. डीएम ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि सांप्रदायिक सद्भाव एवं सामाजिक समरसता के अभिवर्धन के दृष्टिगत राज्य सरकार की ओर से भव्य शेरशाह महोत्सव का आयोजन किया जाएगा. इस दो दिवसीय समारोह में 21 मई को सासाराम रेलवे स्टेशन से शेरशाह के मक़बरे तक एक आकर्षक प्रभातफेरी निकाली जाएगी.

उन्होंने कहा कि 21 मई को ही पूर्वाह्न 11 बजे फजलगंज स्थित मल्टीपर्पस हॉल में महान शासक शेरशाह सूरी के व्यक्तित्व तथा कार्यों पर आधारित मुशायरे एवं गोष्ठी का आयोजन किया जाएगा. 21 एवं 22 मई को न्यू स्टेडियम, फजलगंज में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा. इसके लिए राष्ट्रीय स्तर के कलाकारों तथा स्थानीय कलाकारों को शिरकत करने का मौका दिया जाएगा. डीएम ने उक्त अवसर पर शेरशाह महोत्सव का महत्व बताते हुए एक बुकलेट तथा ऑडियो विजुअल कंटेंट भी तैयार कर उसे महोत्सव के अवसर पर प्रस्तुत करने का निर्देश दिया.

डीएम ने कहा कि महान शासक शेरशाह सूरी ना केवल बिहार के वरन सम्पूर्ण भारत के एक पराक्रमी शासक थे. उन्होंने कहा कि उनके द्वारा निर्मित शेरशाह का मकबरा मध्यकालीन स्थापत्य कला का एक बेहतरीन नमूना है, जो आज भी विश्व भर के पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है. शेरशाह सूरी का मकबरा भारतीय इतिहास की एक बेमिसाल धरोहर है और रोहतास जिले को एक अद्भुत एवं विशिष्ट पहचान प्रदान करता है.

महोत्सव की सभी आवश्यक तैयारियों के लिए एक जिलास्तरीय कमेटी भी गठित करने का निर्णय लिया गया है, ताकि शेरशाह महोत्सव का भव्य एवं गरिमामय आयोजन सम्पन्न किया जा सके. बैठक में एसडीओ सासाराम, संबंधित जिलास्तरीय पदाधिकारी यथा सामान्य शाखा प्रभारी, गोपनीय शाखा प्रभारी, डीटीओ, कार्यपालक अभियंता, विद्युत, भवन प्रमंडल, स्वास्थ्य विभाग, अग्निशमन, डीपीओ आदि पदाधिकारी मौजूद थे.

Leave a Reply