रोहतास में तस्करों का वन अमले पर हमला, रेंजर सहित सात वनकर्मी घायल

रोहतास जिले के रोहतास थाना क्षेत्र के कैमूर पहाड़ी जंगल से लकड़ी की तस्करी सूचना पर गये वन अमले पर तस्करों ने हमला कर दिया. हमले में वन क्षेत्र पदाधिकारी सहित सात अन्य वनकर्मी घायल हो गए. तस्करों ने वन विभाग की गाड़ियों में तोड़फोड़ कर दी. रेंजर के मुताबिक रोहतास थाने क्षेत्र में सखुआ के लकड़ी की तस्करी बहुत दिनों से हो रही है. इसमें कुछ पुलिसकर्मी की भी शामिल होने की सूचना आ रही है. जिसकी तहकीकात की जा रही है.

Ad.

वन क्षेत्र पदाधिकारी बृजलाल मांझी ने बताया कि कुछ लकड़ी तस्कर दो ट्रैक्टरों पर सखुआ की लकड़ी लादकर कैमूर पहाड़ी से नीचे उतार कर ला रहे थे, जिसे तारडीह चेक नका पर तैनात वनकर्मियों ने उन्हें रोकने का प्रयास किया. इस दौरान लकड़ी तस्करों ने वनकर्मियों पर हमला कर मारपीट शुरू कर दी. वन कर्मियों ने तत्काल मोबाइल पर इसकी सूचना रेंजर को दी.

मामले की गंभीरता को देखते हुए रेंजर, विभागीय वनरक्षियों को लेकर घटनास्थल पर पहुंचे. ट्रैक्टर चालकों ने रेंजर को देख उनके साथ भी मारपीट शुरू कर दी. वनरक्षियों के प्रतिरोध के बाद लकड़ी तस्कर ट्रैक्टरों को लेकर फरार हो गये. घायल वन कर्मियो को इलाज के लिए रोहतास प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में कराया गया. रेंजर ने कहा कि स्थानीय पुलिस सखुआ के लड़की लदे पकड़े गए ट्रैक्टर को छोड़ने के लिए दबाव बनाया गया. उन्होंने कहा कि ट्रैक्टर ड्राईवर सहित कुछ हमलावरों की पहचान हुई है. आगे भी किसी भी कीमत पर इस क्षेत्र में तस्करी पर रोक लगायी जाएगी.

Leave a Reply