रोहतास-कैमूर में प्राकृतिक सौंदर्य का दीदार करते हुए ले सकेंगे बोटिंग का आनंद; चलेगी 25 सीटर बोट

फाइल फोटो: दुर्गावती डैम में चलती बोट

रोहतास व कैमूर जिले के सीमा पर अवस्थित दुर्गावती जलाशय अपनी रमणीयता व प्राकृतिक सुंदरता को ले पूर्व से ही आकर्षण का केंद्र रहा है. खेतों में पटवन के साथ दुर्गावती जलाशय पर्यटकों को भी आकर्षित करता है. यहां ईको टूरिज्म को विकसित किया जा रहा है. इसी के तहत दुर्गावती जलाशय में पर्यटकों के लिए जल विहार का इंतजार अब समाप्त होने वाला है.

इस तरह की योजनाओं के लिए वन एवं पर्यावरण विभाग ने रोहतास व कैमूर में लगभग साढ़े तीन करोड़ की राशि के स्वीकृति दी है. जिससे वन क्षेत्र में जनपयोगी योजनाओं को दुरूस्त किया जाएगा. दुर्गावती जलाशय में पर्यटकों को जल विहार कराने के लिए 25 सीटर वोट खरीदने की योजना को स्वीकृति मिली है. इस वोट की खरीदारी कैमूर जिला वन क्षेत्र को मिली राशि से की जाएगी.

पर्यटक दुर्गावती जलाशय में नौका विहार कर उसके विहंगम दृश्य से रोमांचित होंगे. शेरगढ़ किला के बाहरी हिस्से का नजारा भी अब सैलानी दुर्गावती जलाशय से वोटिंग के जरिये देख सकेंगे. दुर्गावती जलाशय में नौका विकार की मांग पिछले कई वर्षों से पर्यटकों द्वारा की जा रही थी. जब राज्य सरकार के वन एवं पर्यावरण मंत्री नीरज बब्लू रोहतास व कैमूर के दौरे पर आए थे तब स्थानीय पर्यटकों ने यह मांग रखा था. उसके बाद इसकी संचिका विभाग में आगे बढ़ाई गई. जिसकी स्वीकृति मिली है.

रोहतास के डीएफओ प्रद्युमन गौरव ने बताया कि दुर्गावती जलाशय में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए नौका विहार का उपाय किए जा रहे हैं, यहां आने वाले पर्यटक उसका आनंद लेंगे. वहां और भी कई सुविधाएं शुरू की जाएंगी. इन योजनाओं का प्रस्ताव पिछले वित्तीय वर्ष में भेजा गया था. जिस पर सरकार ने स्वीकृति की मुहर लगाकर राशि उपलब्ध करा दी है.

Leave a Reply