बाइक रैली के साथ रोहतास के 50वां स्थापना दिवस का हुआ आगाज, कल लघु सेमिनार; 10 को मुख्य कार्यक्रम

शाहाबाद से 10 नवंबर 1972 को अलग होकर स्थापित रोहतास जिले का 50 वां स्थापना दिवस यानि स्वर्ण जयंती लोकोत्सव के रूप में धूमधाम से मनाया जाएगा. इसकी शुरुआत मंगलवार को बाइक रैली के साथ हो गई. रैली में 60 बाइक सवार कर्मी दिनारा प्रखंड के भलुनी धाम से होकर न्यू स्टेडियम फजलगंज सासाराम पहुंचे. इसके पहले सुबह आठ बजे बाइक सवार कर्मी वाहन लेकर भलुनी धाम स्थित मैदान में पहुंचे थे. जहां से सासाराम नगर आयुक्त सत्यप्रकाश शर्मा, बिक्रमगंज एसडीएम उपेन्द्र कुमार पाल व जिला परिवहन पदाधिकारी रामबाबू ने संयुक्त रूप से हरी झंडी दिखाकर बाइक रैली को रवाना किया.

बाइक रैली भलुनी धाम से बिक्रमगंज, संझौली होते हुए नोखा से सासाराम के न्यू फजलगंज स्टेडियम तक पहुंचा. रैली के आगे-आगे परिवहन विभाग के सिपाही चल रहे थे. उनके द्वारा सड़क पर चल रहे अन्य वाहनों को साइड कराया जा रहा था. रैली में शामिल कर्मियों द्वारा सड़क सुरक्षा को ले लोगों को जागरूक किया जा रहा था. रैली में शामिल कर्मी हेलमेट पहने थे. न्यू स्टेडियम फजलगंज में समापन के दौरान मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित एडीएम चंद्रशेखर प्रसाद सिंह ने कहा कि लोगों को सड़क सुरक्षा के उपायों को अनुशरण करना चाहिए. ताकि लोग सुरक्षित रह सकें. सभी लोग वाहन चलाते समय या पैदल चलने के वक्त दूसरों का ख्याल रखें. उनकी सुरक्षा का भी ध्यान रखना चाहिए.

विदित हो कि रोहतास जिले का 50वां स्थापना दिवस लोकोत्सव के रूप में मनाया जा रहा है, जिसमें आम जन, सामाजिक, सांस्कृतिक, व्यापारिक आदि संगठनों एवं विद्यार्थियों को जोड़ा गया है. इसे लेकर डीएम धर्मेंद्र ने पदाधिकारियों को कई निर्देश भी दिए हैं. डीपीआरओ प्रवीण चंदन ने बताया कि जिले के स्वर्ण जयंती पर 9 नवंबर को सुबह 10 बजे रोहतासगढ़ किला पर रोहतास के गौरवशाली अतीत का विमर्श पर लघु सेमिनार आयोजित किया गया है. इसी दिन दोपहर 02 बजे तुतला भवानी धाम में पर्यावरण एवं वानिकी का संरक्षण विषय पर लघु सेमिनार और दोपहर 02 बजे ही दुर्गावती जलाशय पर रोहतास का भविष्य संभावनाएं एवं चुनौतियों विषय पर लघु सेमिनार आयोजित किया गया है.

इसके अलावे इस दिन निबंध प्रतियोगिता, खेल-कूद स्पर्धा एवं नुक्कड़ नाटक का भी आयोजन किया गया है. जिसके लिए अलग-अलग नोडल पदाधिकारी नियुक्त किए गए हैं. उन्होंने बताया कि 10 नवंबर को सुबह 10 बजे मुख्य कार्यक्रम का उद्घाटन होगा. जबकि शाम 3.30 बजे मुशायरा एवं शाम 05 बजे सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किया गया है. कार्यक्रम में मुख्य अतिथि भवन निर्माण मंत्री डॉ अशोक चौधरी, विशिष्ट अतिथि पिछड़ा एवं अतिपिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री अनीता देवी एवं पंचायती राज मंत्री मुरारी प्रसाद गौतम होंगे. वहीं, सांस्कृतिक कार्यक्रम में बॉलीवुड गायक आलोक चौबे, सुभोश्री बनर्जी एवं साहिल राज गीत-संगीत से समां बांधेंगे. इसके अलावे क्षेत्रीय कलाकार भी गीत-संगीत की प्रस्तुती करेंगे.

Leave a Reply