रोहतास स्वास्थ्य विभाग ने प्रवासी श्रमिकों के लिए जारी किया मानसिक स्वास्थ्य हेल्पलाइन नंबर

कोरोना वायरस के संक्रमण को ध्यान में रखते हुए प्रवासी श्रमिकों का मानसिक तनाव दूर करने के संबंध में 31 मार्च को उच्चतम न्यायालय ने जागरूकता कार्यक्रम चलाने का आदेश दिया था. न्यायालय के आदेश के आलोक में रोहतास के सिविल सर्जन द्वारा मानसिक स्वास्थ्य हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है.

लॉकडाउन के स्थिति में प्रवासी श्रमिकों को मानसिक तनाव दूर करने संबंधी परामर्श प्रदान करने हेतु जिला मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम इकाई का हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है. स्वास्थ्य पदाधिकारियों द्वारा प्रवासी श्रमिकों को मानसिक तनाव दूर करने संबंधी परामर्श हेल्पलाइन नंबर 9431413011 , 9852738251 , 7759916751 पर दिया जायेगा.आवश्यकता पड़ने पर स्वास्थ्यकर्मी उच्चाधिकारियों के निदेश पर श्रमिकों के सेल्टरों पर भी जाकर मानसिक तनाव दूर करने संबंधी परामर्श देंगे.

फाइल फोटो: जिले की सीमा पर स्थित मध्य विद्यालय खुर्माबाद में प्रवासी लोगों के लिए बना ड्रॉप सेंटर

स्वास्थ्य पदाधिकारी डॉ. विप्लव कुमार सिंह ने प्रवासी श्रमिकों को तनाव दूर करने के कुछ सुझाव दिए:

  • कोरोना के संबंध में केवल विश्वसनीय स्त्रोतों से ही जानकारी प्राप्त करें. ऐसे में केंद्र या राज्य सरकार द्वारा जारी किए गए वेबसाइट व हेल्पलाइन से जानकारी लेना उचित होगा.
  • व्हाट्सएप, फेसबुक या अपने पड़ोसी द्वारा बताई गई जानकारी पर सहज विश्वास न करें और न ही चितित हो.
  • भावनात्मक स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए संतुलित आहार लें. पर्याप्त पानी व नींद लेने के साथ प्रतिदिन व्यायाम करें.
  • घर पर खेलना, कुछ नया कौशल सीखने या सिखाने का अभ्यास करें. प्रतिदिन कुछ देर ध्यान करने के साथ दस मिनट तक सांस लेने व छोड़ने की क्रिया का अभ्यास करें.
  • प्रियजनों से मोबाइल से बात करने के लिए समय निर्धारित करें. साथ ही प्रतिदिन साबुन या हैंडवाश से हाथ धोते हुए शारीरिक दूरी हर हाल में बनाए रखें. सरकार व प्रशासन द्वारा आप की सुरक्षा के लिए जो नियम बनाए जाए उसका अनुपालन करें.

Leave a Reply