रोहतास के गैस एजेंसी संचालक के अपहरण की आशंका, पत्नी ने मोहनिया थाने में दर्ज कराई प्राथमिकी

फाइल फोटो: गैस एजेंसी संचालक धर्मेंद्र प्रताप

रोहतास जिले के परसथुआ थाना क्षेत्र में कथराई स्थित कांति भारत गैस ग्रामीण वितरक गैस एजेंसी के संचालक धर्मेंद्र प्रताप के अपहरण का मामला प्रकाश में आया है. गैस एजेंसी संचालक की पत्नी कांति देवी ने अपहरण की आशंका को लेकर मोहनिया थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई है. बताया जा रहा है कि धर्मेन्द्र प्रताप कुदरा के लीलापुर में सत्येंद्र प्रसाद सिंह के मकान में किराए पर रहते हैं. शुक्रवार को वे बाइक से मोहनियां आए थे. शाम को कुदरा लौट रहे थे. इसी दौरान मोहनियां थाना क्षेत्र के बरहुली गांव के समीप उनका अपहरण होने की आशंका जताई जा रही है.

रविवार को उनकी पत्नी कांति देवी ने मोहनियां थाना में पति के अज्ञात के विरुद्ध अपहरण की प्राथमिकी दर्ज कराया. उन्होंने आवेदन में लिखा है कि मोहनिया से कुदरा लौटने के दौरान उनके पति ने फोन पर बताया था कि उनका कोई पीछा कर रहा है. वे काफी घबराए हुए थे. इसके बाद फोन कट गया. दो दिन बीत जाने के बाद भी उनसे कोई संपर्क नहीं हो पाया है.

शनिवार को उनके एक मित्र रवि सिंह ग्राम भुसवला थाना डेहरी रोहतास द्वारा फोन करके बताया गया कि 15 जनवरी को उनके पास धर्मेंद्र का फोन आया था. उन्होंने बताया कि कुछ लोग उनको पकड़े हुए हैं और कहीं ले जा रहे हैं. उनकी बाइक (डीएल 11-5 ए 6771) बरहुली गांव के पास खड़ी है. उसको मंगवा लीजिएगा. इसके बाद फोन कट गया. उन्होंने वॉइस रेकॉर्डिंग को भी सबूत के तौर पर पेश किया है.

आवेदन में कांति देवी ने लिखा है कि कुछ लोगों द्वारा उनका पैसे का लेन देन है. उन्हें संदेह है कि उनके पति का अपहरण किया गया है. इस संबंध में पूछे जाने पर मोहनिया के थानाध्यक्ष ललन कुमार ने बताया कि ग्राम कथराई थाना कोचस रोहतास निवासी धर्मेंद्र प्रताप की पत्नी कांति देवी द्वारा पति के अपहरण घटना से संबंधित आवेदन मिला है. पुलिस हरेक बिंदु पर बारीकी से जांच करने में जुटी हुई है.

Leave a Reply