रोहतास: बारिश के बीच डीएम के जनता दरबार में लगा फरियादियों का तांता, कई मामलों का ऑन द स्पॉट निष्पादन

रोहतास जिले में डीएम धर्मेंद्र कुमार द्वारा लोक शिकायत निवारण के लिए शुरू किए गए ‘प्रखंड विकास सह लोक शिकायत निवारण शिविर’ के दूसरे चरण में बुधवार को रोहतास प्रशासन नोखा पहुंचकर 458 फरियादियों के समस्याओं का समाधान ढूंढ़ा. शिविर में डीएम साहब के पहुंचते ही बारिश शुरू हो गई. कुछ मिनट इंतजार के बाद बारिश नहीं रुकी तो डीएम ने रिमझिम बारिश में भींगते हुए लोगों की समस्याओं को सुनना शुरू कर दिए.

समस्या सुनने के दौरान डीएम की नजर एक दिव्यांग फरियादी पर पड़ी. जिसके बाद डीएम ने जमीन पर बैठकर उनकी समस्या सुनी. फरियादी ने बैट्री रहित बेलचेयर की मांग की. सरकार द्वारा चलाई जा रही सभी विभागीय योजनाओं के 29 स्टॉल पर जाकर डीएम ने उपस्थित लोगों से उनकी शिकायत को सुना. इसमें सबसे ज्यादा राशन कार्ड और आवास योजना की शिकायत मिली. राशन कार्ड नहीं बनने व राशन नहीं मिलने की शिकायत लोगों ने डीएम से की.

शिविर में पेंशन, पीडीएस, स्वास्थ्य विभाग, परिवाद, लोक शिकायत आदि से जुड़े 60 मामलों का ऑन स्पॉट निष्पादन भी कर दिया गया. जबकि शेष पर कार्रवाई हेतु जिलाधिकारी द्वारा सभी संबंधित विभाग प्रधानों को निर्देश दिया गया। समीक्षा अगले 14 दिनों के बाद की जाएगी. रूक-रूक कर हो रही वर्षा के बीच हजारों फरियादियों के साथ पूरा प्रशासनिक महकमा भी पानी के टपकते टेंट के नीचे पूरे छह घंटों तक जमा रहा. शिविर में तो कई फरियादी देर रात में ही अपनी शिकायतों को लेकर पर पहुंच गए थे.

ज्ञातव्य है कि इस लोक शिकायत निवारण शिविर के सफल आयोजन के लिए डीएम ने प्रखंड के बीडीओ, सीओ, सीडीपीओ आदि को दो अगस्त से ही प्रखंड मुख्यालय परिसर में काउंटर स्थापित कर विभिन विभागों से संबंधित आवेदन/परिवाद पत्र प्राप्त करने का निर्देश दिया था. इस शिविर के निमित्त पूर्व में कुल 484 आवेदन प्राप्त हुए जिनमें से 320 आवेदनों का निष्पादन प्रखंड स्तर से कर लिया गया है. जबकि शेष 164 आवेदनों के निष्पादन की दिशा में कार्रवाई की जा रही है. जिसकी समीक्षा डीएम द्वारा 14 दिन बाद की जाएगी.

बुधवार को शिविर में डीएम द्वारा मुख्यमंत्री परिवहन योजना के तहत 4 लाभुकों धर्मेन्द्र कुमार, छोटन रजवार, आदित्य कुमार एवं विपिन कुमार को ऑटोरिक्शा/टेम्पो का वितरण किया गया. वहीं मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के 9 लाभुकों के खाते में राशि हस्तांतरित की गई. 12 जन्म प्रमाण पत्र एवं एक मृत्यु प्रमाण-पत्र भी संबंधित अभिभावक/आश्रित को प्रदान किया गया. कुल 5 व्यक्तियों को नया राशन कार्ड एवं कोविड से मृत व्यक्ति के निकटतम आश्रित मुरारी भगत को रुपये 4 लाख का चेक प्रदान किया गया. मौके पर डीडीसी सुरेंद्र प्रसाद, सिविल सर्जन सुधीर कुमार, सदर एसडीएम मनोज कुमार, ओएसडी प्रवीण चन्दन, जिला भू-अर्जन पदाधिकारी राजेश गुप्ता, डीपीआरओ सत्यप्रिय कुमार सहित जिलास्तरीय सभी पदाधिकारी उपस्थित व कर्मी उपस्थित रहे.

Leave a Reply