28वीं राज्यस्तरीय बाल विज्ञान कांग्रेस में रोहतास की श्रेया बनीं स्टेट अवार्डी

रोहतास जिले के डिलिया राष्‍ट्रीय उच्च माध्यमिक विद्यालय की छात्रा श्रेया कुमारी को ऑनलाइन आयोजित 28वीं राज्यस्तरीय बाल विज्ञान कांग्रेस प्रतियोगिता में स्टेट अवार्डी के रूप में चयन किया गया है. इस कार्यक्रम में रोहतास जिले की तीन छात्राएं शामिल हुई थीं. स्टेट अवार्डी श्रेया की माने तो कोई भी कार्य कठिन नहीं होता है. दृढ़ इच्छाशक्ति व जज्बा के आगे सब आसान हो जाता है और सफलता अवश्य मिलती है. उनका प्रयास होगा कि आगे भी सफलता हासिल कर जिले का नाम पूरे देश में रोशन करें. परियोजना को तैयार करने मे गाइड शिक्षक आनंद कुमार तिवारी ने अहम भूमिका निभाई.

Ad.

जिला समन्वयक सुदामा पांडेय के मुताबिक कोरोना महामारी के कारण इस बार बाल विज्ञान कांग्रेस का आयोजन वर्चुअल तरीके से किया गया था. इस आयोजन में जिले से तीन छात्रों को भेजा गया था. उसमें श्रेया कुमारी ने रसोई घर में उपयोग की गई सामग्री को कृषि कार्य में खाद के रूप में इस्तेमाल किए जाने का प्रोजेक्‍ट प्रस्‍तुत किया था. उसकी इस परियोजना की प्रशंसा राज्यस्तरीय निर्णायक मंडल के सदस्यों ने की.

शिवसागर के श्री दुर्गा उच्च माध्यमिक विद्यालय की छात्रा नेहा कुमारी ने पारंपरिक तरीके से छत निर्माण तथा अभ्युदय इंटरनेशनल स्कूल दिनारा की अनुराधा दूबे ने जीवन के सतत विकास के लिए पारंपरिक भोजन और जंक फूड पर तुलनात्मक परियोजना तैयार किया था. जिला समन्‍वयक ने कहा कि 2019 में जिले की पूजा, मानसी व खुशी स्टेट अवार्डी बनी थीं. उनमें से दो पूजा व मानसी को केरल के तिरूवंतपुरम में आयोजित राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस में भाग लेने का मौका मिला था. कहा कि उनका प्रयास है कि विज्ञान के क्षेत्र में जिले के लड़के-लड़कियां कुछ नवाचार करें, ताकि विज्ञान की महता को लोग जान सके.

Leave a Reply