वाराणसी-हावड़ा बुलेट ट्रेन का रूट बदल गया? सासाराम-गया-धनबाद से गुजरेगी हाइ स्‍पीड ट्रेन

प्रतीकात्मक तस्वीर

बुलेट ट्रेन हमारे देश के लोगों का एक ऐसा सपना है, जिसके पूरा होने की आस अब जगती दिख रही है. रेलवे ने देश के कई रूटों पर हाई स्‍पीड रेल कारिडोर बनाने की योजना तैयार की है, जिसमें वाराणसी-हावड़ा का रूट भी शामिल है. हालांकि, यह अभी तय नहीं है कि यह रूट वाया सासाराम-गया-धनबाद होगी या पटना. लेकिन, यह तय है कि इसके लिए नई पटरी बिछाई जाएगी. इसके लिए सर्वे किया जा रहा है.

वाराणसी-नई दिल्‍ली के हाई स्‍पीड रेल का सर्वे पहले ही पूरा हो चुका है और इसका प्रोजेक्‍ट अलग है. इन दाेनों योजनाओं के पूरा होने पर दिल्ली से हावड़ा का सफर चंद घंटों में पूरा हो सकेगा. रेलवे के इस प्रोजेक्‍ट पर आधिकारिक स्‍तर से अभी बहुत अधिकारी जानकारी पब्लिक डोमेन में नहीं दी जा रही है. इसके चलते कई तरह के कयास और भ्रम लोगों के बीच पैदा हो रहे हैं. ताजा मामला वाराणसी-हावड़ा हाइ स्‍पीड रेल के रूट को लेकर है. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि यह रेल रूट वाराणसी से शुरू होकर बिहार के सासाराम, गया होकर झारखंड के धनबाद होते हुए जाएगा. दूसरी तरफ, कुछ रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि यह रेल रूट वाराणसी से बक्‍सर, आरा, पटना, नवादा के रास्‍ते धनबाद होकर पूरा होगा. बुलेट ट्रेन के इस रूट को लेकर रेलवे की तैयारियां और चर्चाएं काफी लंबे अरसे से चल रही हैं.

जानकारी के मुताबिक रेलवे से जुड़ी निर्माण कंपनी इरकान ने 22 जुलाई 2010 को हाइ स्‍पीड रेल नेटवर्क के लिए प्रि फ‍िज‍िब‍िल‍िटी रिपोर्ट तैयार करने के लिए निविदा आमंत्रित की थी. इस निविदा में दिल्‍ली- आगरा- लखनऊ- वाराणसी होते हुए पटना तक 991 किलोमीटर लंबे रूट पर हाइ स्‍पीड रेल कारिडोर बनाने की बात थी. केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार बनने के बाद दिल्‍ली से हावड़ा तक हाइ स्‍पीड रेल के लिए सर्वे शुरू किया गया, हालांकि इस रूट को दिल्‍ली से वाराणसी और वाराणसी से हावड़ा तक दो हिस्‍सों में बांट दिया गया. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक एक रिपोर्ट में कहा गया है कि वाराणसी से सासाराम व गया के रास्‍ते हावड़ा तक ट्रैक तैयार करना कही अधिक आसान हो सकता है. इससे दूरी भी कुछ हद तक घट जायेगी.

मिली जानकारी के अनुसार गिरिडीह के बगोदर इलाके में सर्वे कार्य पूरा कर लिया है और कोडरमा, धनबाद, हजारीबाग समेत ट्रेन के गुजरने वाले कई इलाके में सर्वे किया जा रहा है. वाराणसी-हावड़ा हाई स्‍पीड रेल नेटवर्क के लिए सर्वे का काम टीला कंसल्टेंट्स एंड कॉन्ट्रैक्टर्स प्राइवेट लिमिटेड और मोनार्क सर्वेयर्स एंड इंजीनियरिंग कंसल्टेंट्स प्राइवेट लिमिटेड के कंसोर्टियम को सौंपा गया है. बहरहाल, अब सबको इंतजार इस बात का है कि आखिर वाराणसी-हावड़ा बुलेट रूट का फाइनल रूट आखिर क्या तय होता है.

Leave a Reply